• शाहरुख खान के प्रोडक्शन हाउस में बनी फिल्म 'कामयाब' का ट्रेलर हुआ रिलीज़
    by Dainik Bhaskar,,327 on February 18, 2020 at 9:51 am

    द्रिश्यम फिल्म्स प्रोडक्शन और रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट द्वारा प्रस्तुत फिल्म 'कामयाब' बॉलीवुड के कॅरेक्टर एक्टर यानी सहायक कलाकार पर बनी एक कड़वी पर मिठास भरी कहानी बयान करती है।कामयाब दुनिया भर के फिल्म समारोहों में प्रशंसा और पुरस्कार प्राप्त कर चुका है, और अब 6 मार्च 2020 को सिनेमाघरों में रिलीज़ होने के लिए तैयार है।इस फिल्म में इंडस्ट्री के कई प्रतिभावान कलाकार शामिल हैं! एक तरफ़ जहॉं संजय मिश्रा प्रमुख भूमिका में दिखायी देंगे, वहीं दीपक डोबरियाल, सारिका सिंघ और इशा तलवार सहायक भुमिका निभाएंगे। फिल्म का निर्देशन हार्दिक मेहता ने किया है, जिन्हें अपनी लघु फिल्म 'अमदावाद मा फेमस' के लिए नैशनल अवार्ड से नवाज़ा जा चुका है।इस फिल्म का ट्रेलर सुधीर (संजय मिश्रा) - एक सुपरस्टार साइडकिक और अनुभवी करैक्टर एक्टर - की कहानी दर्शाता है। सुधीर को जब पता चलता है की वो 499 फिल्में कर चुके हैं, तो अपनी सेवानिवृत्ति से बाहर आकर '500' फिल्मों का एक रिकॉर्ड बनाने निकल पड़ते हैं। फिल्म का ट्रेलर, एक ऐसे करैक्टर एक्टर की दिल छू लेने वाली कहानी दर्शाता है, जिसे राउंड फिगर पूरा करने के लिए एक यादगार, रिकॉर्ड-तोड़ भूमिका की तलाश है!रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट द्वारा प्रस्तुत, और द्रिश्यम फिल्म्स द्वारा निर्मित, 'हर किस्से के हिस्से कामयाब' के प्रोड्यूसर्स गौरी खान, मनीष मुंद्रा, और गौरव वर्मा हैं! यह फिल्म 6 मार्च को रिलीज़ होने वाली है।देखें ये मज़ेदार ट्रेलर - Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The trailer of the film 'Kaamyaab' made at Shahrukh Khan's production house, released […]

  • MX प्लेयर की ओरिजनल सीरिज 'पवन और पूजा' के लिए साथ आए हिचकी, बंटी और बब्ली के निर्देशक
    by Dainik Bhaskar,,327 on February 7, 2020 at 7:18 am

    इंडियन ऑडियंस के प्रीमियम कंटेंट को मुफ़्त में लाने के अपने विज़न के साथ, MX प्लेयर ने इंडस्ट्रीज़ में कुछ ऐसे लोगों के साथ हाथ मिलाया है, जो ओरिजिनल्स और एक्सक्लूसिव्स कंटेंट के लिए अलग नजरिए से काम करते हैं। इस बार प्रमुख स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म अपनी आगामी MX ओरिजनल सीरीज 'पवन और पूजा' के लिए एक नहीं बल्कि बॉलीवुड के तीन प्रमुख क्रिएटिव्स माइंड्स के साथ जुड़ रहा है!सिद्धार्थ पी मल्होत्रा, जो अपनी फिल्मों 'वी आर फैमिली और हिचकी' के लिए जाने जाते हैं, तो शाद अली 'साथिया, बंटी और बबली और ओके जानू' के निर्देशक रहे हैं। वहीं, इस प्रोजेक्ट में डायरेक्टर अजय भुयान ने इनकी मदद की है। यह रिलेशनशीप बेस्ड ड्रामा है, जो 3 कपल्स को दिखाता है और संयोग से तीनों कपल का नाम 'पवन और पूजा' है। हैरत की बात ये है कि इन तीनों कपल को लाइफ के अलग-अलग स्टेज में पता चलता है कि उनका प्यार वास्तव में सशर्त, टूटने योग्य और संदिग्ध है। 'पवन एंड पूजा' में वरिष्ठ अभिनेता महेश मांजरेकर - दीप्ति नवल, शरमन जोशी - गुल पनाग और तारुक रैना - नताशा भारद्वाज बतौर कपल दिखाई दिए हैं।निर्देशक, लेखक, कार्यकारी निर्माता और एक पटकथा और संवाद लेखक के तौर पर इसका क्रेडिट सिद्धार्थ पी मल्होत्रा को जाता है। उन्होंने 'वी आर फैमिली' से लेकर 'हिचकी' जैसी फिल्मों से प्यार, रिलेशनशीप और बदलते विचारधारा को बेहतरीन तरीके से दिखाया है, जो आज भी प्रासंगिक हैं। इस सीरीज के बारे में बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, “यह शो प्यार और रिश्तों के बारे में है और इनका मतलब तीन अलग-अलग पीढ़ियों से है। तीनों कहानियां लोगों के वास्तविक जीवन के अनुभवों से ली गई हैं जो प्यार की अवधारणा पर सवाल उठाती हैं और यह कहती हैं कि प्यार आदर्शवादी नहीं है, चलो यथार्थवादी रहें। लाइफ अब ब्लैक एंड व्हाइट नहीं है, यह ग्रे है। यह शो भी मूल रूप से लाइफ के ग्रे शेड्स को दिखाता है।”सिद्धार्थ पी मल्होत्रा के साथ इस शो के क्रिएटर्स में शाद अली भी शामिल हैं। 'साथिया' और 'ओके जानू' जैसी ब्लॉकबस्टर सक्सेस देने के बाद उन्होंने नए जमाने की प्रेम कहानियों को एक अनोखा रंग देने की कोशिश की है, जो उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण है। वह ‘पवन और पूजा’ श्रृंखला के निर्देशक भी हैं। श्रृंखला के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, "इस सीरीज की कहानियां और परिस्थितियां बहुत वास्तविक हैं, जो किसी की भी हो सकती हैं। यह स्टोरी कपल्स और प्यार की है, लेकिन इसके जरिए आपको इसका एक अलग पहलू देखने को मिलेगा। हर एक कैरेक्टर शानदार तरीके से तैयार किया गया है और हर एक्टर ने इसे दूसरे स्तर पर ले जाने की कोशिश की है, यह वास्तव में उन एक्टर्स का शो है।"शाद अली के साथ इस सीरीज का निर्देशन अजय भुयान ने भी किया है। 'पवन और पूजा' की शूटिंग के अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "किसी भी रिलेशनशीप में ऐसी कोई करिश्माई चीजें नहीं होती हैं, जिससे रिश्ते खत्म हो जाते हैं, बल्कि छोटी-छोटी बातें और उनकी पेचीदगियां ही किसी रिश्ते के खत्म होने की वजह बनती हैं। इसे ध्यान में रखते हुए हमने ‘पवन और पूजा’ श्रृंखला बनाई।”आप इस सीरीज को 14 फरवरी 2020 से MX प्लेयर पर बिल्कुल फ्री में देख सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Original web series 'Pawan & Pooja' to release on 14 Feb […]

  • कॉमेडी का तड़का लगाने वाली फिल्म 'दूरदर्शन' का ट्रेलर हुआ लॉन्च
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 29, 2020 at 11:39 am

    1989 और 2020 के बीच एक परिवार के साथ की कहानी के साथ, Doordarshan ट्रेलर एक उल्लसित सवारी का वादा करता है।Doordarshan के निर्माता, आज फिल्म के पोस्टर और ट्रेलर को जारी किया और इसने दर्शकों का ध्यान आकर्षित किया है। माही गिल, मनु ऋषि चड्ढा, डॉली अहलूवालिया और सुप्रिया शुक्ला मुख्य भूमिकाओं में, और दूरदर्शन एक कॉमेडी फिल्म है, जो पूरे परिवार के लिए शानदार मनोरंजन का वादा करती है।दूरदर्शन की कहानी एक उत्तर भारतीय परिवार के इर्द-गिर्द घूमती है, जो 1990 के दशक के दूरदर्शन युग को आज के तेज गति वाले युग में फिर से बनाने के लिए मजबूर है, और वह घटनाओं का एक उल्लासपूर्ण मोड़ है।देखें ये मज़ेदार ट्रेलर -आर्य फिल्म्स द्वारा प्रस्तुत, Doordarshan को रितु और संदीप आर्य द्वारा निर्मित और गगन पुरी द्वारा लिखित और निर्देशित किया गया है, और 28 फरवरी 2020 को सिनेमाघरों में दर्शको को देखने मिलेगी । Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The trailer of Doordarshan, a comedy thriller, launched […]

  • अमेरिकन रैपर निप्से हसल को मरणोपरांत सम्मान मिला, लेडी गागा ने 2 अवॉर्ड जीते
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 27, 2020 at 4:59 am

    लॉस एंजेलिस.अमेरिका में सोमवार को62वें ग्रैमी अवॉर्ड समारोह का आयोजन किया गया। एलिसिया कीज ने कार्यक्रम को होस्ट किया। अमेरिकन रैपर निप्से हसल को मरणोपरांत पहली बार ग्रैमी अवॉर्ड दिया गया। उन्हें ‘रैक्स इन द मिडिल’ गाने के लिए यह अवॉर्ड मिला। इस दौरान उनके भाई, दादी और मंगेतर लॉरेन मौजूद रहीं। वहीं, मशहूर सिंगर लेडी गागा को विजुअल मीडिया में बेस्ट सॉन्ग लिखने के लिए अवॉर्ड जीता।लेडी गागा ने सॉन्ग ‘आई विल नेवर लव अगेन’ के लिए नताली हेम्बी, हिलेरी लिंडसे और आरोन रिटेयरे के साथ अवॉर्ड साझा किया। उन्हें फिल्म ‘स्टार इज बॉर्न’ के ‘शैलो’ गाने के लिए भी अवॉर्ड मिला। इसे लेडी गागा और ब्रैडली कूपर ने लिखा है। कार्यक्रम के दौरान कलाकारों ने बास्केटबॉल खिलाड़ीकोबी ब्रायनऔर उनकी बेटी को श्रद्धांजलि दी। रविवार कोहेलिकॉप्टर दुर्घटना में उनकी मौत हो गई। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today लेडी गागा। -फाइल फोटो […]

  • निर्देशक अरविंद बब्बल ने आज के युग में दमदार कहानियों की प्रासंगिकता पर बात की
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 23, 2020 at 5:59 am

    ऑक्सफ़ोर्ड डिक्शनरी के अनुसार एंटरटेंमेंट का अर्थ है आनंद व मनोरंजन प्रदान करने वाला कार्य लेकिन आज एंटरटेंमेंट इससे कहीं व्यापक है - यह हमें झकझोरता है, दिशा देता है, सवाल खड़े करता है, और सबसे महत्त्वपूर्ण बात ये कि यह हमें उन बातों कि जानकारी देता है जिसे हम अक्सर दरकिनार कर देते हैं।चाहे गंगाजल हो, आर्टिकल 15 हो या मर्दानी 2, इन सभी फिल्मों ने आम आदमी को जगाया है उन विषयों की तरफ जिनपर ध्यान देने की ज़रूरत है। हमने इसका असर निर्भया केस पर देखा है और हालिया उस केस पर भी जिसमें वेटेरिनरी डॉक्टर के बलात्कारियों को पुलिस ने मार दिया।निर्देशक अरविंद बब्बल ने हाल ही में अपनी वेब सिरीज़ माधुरी टॉकीज़ लॉन्च की है जो महिलाओं के ख़िलाफ़ संगीन अपराधों को आड़े हाथ लेती है और दर्शाती है कि क्यों हमें अब कमान अपने हाथों में लेने की ज़रूरत है।वे कहते हैं, ‘’माधुरी टॉकीज़ में हमने उस आम आदमी को दिखाया है जिसके धैर्य का बांध टूट रहा है। न्याय में देरी भी अन्याय है और जबतक अपराधियों को सज़ा न मिल जाए, पीड़ित या उसके परिवार के लिए सांत्वना बेमानी हैं।चाहे अपने रेप केस पर कोर्ट में सुनवायी के लिए जाती महिला को आग में जलाना हो या निर्भया जैसे संगीन अपराधों के लिए अभियुक्तों को बारंबार याचिका के मौके देना - न्याय की कमी लोगों में विवाद उत्पन्न कर रही है और इसीलिए वे हैदराबाद की वेटेरिनरी के बलात्कारियों के पुलिस द्वारा मारे जाने पर ख़ुश हैं और समय रहते न्याय मान रहे हैं जबकि वे जानते हैं कि कानूनी प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया था।ऐसी कहानियों को लोगों के बीच लाना पहले से कहीं ज़्यादा ज़रूरी अब है और उस माध्यम के ज़रिए जो मेरा व्यवसाय है, मैं ऐसे कुकृत्यों पर प्रभावशाली बातें लाने की कोशिश कर रहा हूं।माधुरी टॉकीज़ दिल और दिमाग पर प्रहार करने वाली कहानी है। यह कहानी है मनीष (सागर वाही द्वारा अभिनीत) की जो अपने प्यार, पुनीता (ऐश्वर्या शर्मा द्वारा अभिनीत) का बदला लेने के लिए बनारस में हिंसात्मक हो जाता है। पुनीता का सत्ता के भूखे उन गुंडों ने शोषण किया था जिनका बनारस में राज रहा।अप्लॉज़ एंटरटेंमेंट द्वारा निर्मित, आपको सोचने पर मजबूर करने वाला यह थ्रिलर फ़्री में देखा जा सकता है सिर्फ़ MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Director Arvind Babbal spoke on the relevance of powerful stories in today's era […]

  • MX Player पर DAMAGED 2 है बिल्कुल फ़्री, अभी देखें हिना ख़ान की यह साइकोलॉजिकल थ्रिलर
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 20, 2020 at 9:42 am

    डैमेज्ड 2 को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके साथ वेब सिरीज़ में अपना डेब्यू करने वाली हिना ख़ान इससे बेहद ख़ुश हैं। उन्होंने इस साइकोलॉजिकल थ्रिलर में अध्ययन सुमन के साथ काम किया है जिसे MX Player पर मुफ़्त देखा जा सकता है। सिरीज़ के लिए इस जोड़े को ख़ूब तारीफ़ें मिल रही हैं।यह एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है इस जोड़े की केमिस्ट्री का जिसे मिस नहीं किया जा सकता, साथ ही आपको बांधे रखने वाला कथानक डैमेज्ड 2 के सस्पेंस को और बढ़ाता है। इसमें हिना ख़ान गौरी बत्रा नामक सशक्त महिला के किरदार में हैं जिसकी शादी आकाश बत्रा (अध्ययन सुमन) से हुई है। यह कपल एक होमस्टे चलाता है और सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा होता है तभी उनकी पेइंग गेस्ट में से एक छोटी लड़की ग़ायब हो जाती है। भयावह है न? जैसे-जैसे शो आगे बढ़ता है, पता चलता है कि बत्रा परिवार की ज़िंदगी में सब ठीक नहीं है।अपने किरदार में आने और किरदार से निकलने को लेकर हिना ने कहा, ‘’शुरू में मैं किरदार को हर रोज़ जीती हूं। मैं वैसे ही सोती थी जैसे गौरी सोती है। लेकिन जैसे ही मैं किरदार में ढल जाती हूं, उसके बाद मैं उसमें नहीं रहूंगी क्योंकि यह एक कलाकार के लिए बहुत कठिन है। हमलोग 30 दिन तक एक प्रोजेक्ट के लिए शूट करते हैं, हर समय उस किरदार में नहीं रहा जा सकता। मेरे लिए शूट पूरा होते ही किरदार से निकलना आसान होता है क्योंकि मैं टेलिविज़न बैकग्राउंड से हूं। किरदार में ढलने के बाद पैकअप के साथ ही मैं उससे निकल जाती हूं।कहानी में आगे और क्या है, जानने के लिए क्लिक करें औरदेखें डैमेज्ड 2 फ़्री मेंMX Player अपने दर्शकों को देता है प्रीमियम कंटेंट मुफ़्त में। डैमेज्ड 2 में आगे क्या होता है, जानने के लिए अभी देखें MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today DAMAGED 2 on MX Player is absolutely free, watch Hina Khan's psychological thriller now […]

  • MX Player पर DAMAGED 2 है बिल्कुल फ़्री, अभी देखें हिना ख़ान की यह साइकोलॉजिकल थ्रिलर
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 20, 2020 at 9:42 am

    डैमेज्ड 2 को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके साथ वेब सिरीज़ में अपना डेब्यू करने वाली हिना ख़ान इससे बेहद ख़ुश हैं। उन्होंने इस साइकोलॉजिकल थ्रिलर में अध्ययन सुमन के साथ काम किया है जिसे MX Player पर मुफ़्त देखा जा सकता है। सिरीज़ के लिए इस जोड़े को ख़ूब तारीफ़ें मिल रही हैं।यह एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है इस जोड़े की केमिस्ट्री का जिसे मिस नहीं किया जा सकता, साथ ही आपको बांधे रखने वाला कथानक डैमेज्ड 2 के सस्पेंस को और बढ़ाता है। इसमें हिना ख़ान गौरी बत्रा नामक सशक्त महिला के किरदार में हैं जिसकी शादी आकाश बत्रा (अध्ययन सुमन) से हुई है। यह कपल एक होमस्टे चलाता है और सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा होता है तभी उनकी पेइंग गेस्ट में से एक छोटी लड़की ग़ायब हो जाती है। भयावह है न? जैसे-जैसे शो आगे बढ़ता है, पता चलता है कि बत्रा परिवार की ज़िंदगी में सब ठीक नहीं है।अपने किरदार में आने और किरदार से निकलने को लेकर हिना ने कहा, ‘’शुरू में मैं किरदार को हर रोज़ जीती हूं। मैं वैसे ही सोती थी जैसे गौरी सोती है। लेकिन जैसे ही मैं किरदार में ढल जाती हूं, उसके बाद मैं उसमें नहीं रहूंगी क्योंकि यह एक कलाकार के लिए बहुत कठिन है। हमलोग 30 दिन तक एक प्रोजेक्ट के लिए शूट करते हैं, हर समय उस किरदार में नहीं रहा जा सकता। मेरे लिए शूट पूरा होते ही किरदार से निकलना आसान होता है क्योंकि मैं टेलिविज़न बैकग्राउंड से हूं। किरदार में ढलने के बाद पैकअप के साथ ही मैं उससे निकल जाती हूं।कहानी में आगे और क्या है, जानने के लिए क्लिक करें औरदेखें डैमेज्ड 2 फ़्री मेंMX Player अपने दर्शकों को देता है प्रीमियम कंटेंट मुफ़्त में। डैमेज्ड 2 में आगे क्या होता है, जानने के लिए अभी देखें MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today DAMAGED 2 on MX Player is absolutely free, watch Hina Khan's psychological thriller now […]

  • MX Player पर DAMAGED 2 है बिल्कुल फ़्री, अभी देखें हिना ख़ान की यह साइकोलॉजिकल थ्रिलर
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 20, 2020 at 9:42 am

    डैमेज्ड 2 को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके साथ वेब सिरीज़ में अपना डेब्यू करने वाली हिना ख़ान इससे बेहद ख़ुश हैं। उन्होंने इस साइकोलॉजिकल थ्रिलर में अध्ययन सुमन के साथ काम किया है जिसे MX Player पर मुफ़्त देखा जा सकता है। सिरीज़ के लिए इस जोड़े को ख़ूब तारीफ़ें मिल रही हैं।यह एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है इस जोड़े की केमिस्ट्री का जिसे मिस नहीं किया जा सकता, साथ ही आपको बांधे रखने वाला कथानक डैमेज्ड 2 के सस्पेंस को और बढ़ाता है। इसमें हिना ख़ान गौरी बत्रा नामक सशक्त महिला के किरदार में हैं जिसकी शादी आकाश बत्रा (अध्ययन सुमन) से हुई है। यह कपल एक होमस्टे चलाता है और सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा होता है तभी उनकी पेइंग गेस्ट में से एक छोटी लड़की ग़ायब हो जाती है। भयावह है न? जैसे-जैसे शो आगे बढ़ता है, पता चलता है कि बत्रा परिवार की ज़िंदगी में सब ठीक नहीं है।अपने किरदार में आने और किरदार से निकलने को लेकर हिना ने कहा, ‘’शुरू में मैं किरदार को हर रोज़ जीती हूं। मैं वैसे ही सोती थी जैसे गौरी सोती है। लेकिन जैसे ही मैं किरदार में ढल जाती हूं, उसके बाद मैं उसमें नहीं रहूंगी क्योंकि यह एक कलाकार के लिए बहुत कठिन है। हमलोग 30 दिन तक एक प्रोजेक्ट के लिए शूट करते हैं, हर समय उस किरदार में नहीं रहा जा सकता। मेरे लिए शूट पूरा होते ही किरदार से निकलना आसान होता है क्योंकि मैं टेलिविज़न बैकग्राउंड से हूं। किरदार में ढलने के बाद पैकअप के साथ ही मैं उससे निकल जाती हूं।कहानी में आगे और क्या है, जानने के लिए क्लिक करें औरदेखें डैमेज्ड 2 फ़्री मेंMX Player अपने दर्शकों को देता है प्रीमियम कंटेंट मुफ़्त में। डैमेज्ड 2 में आगे क्या होता है, जानने के लिए अभी देखें MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today DAMAGED 2 on MX Player is absolutely free, watch Hina Khan's psychological thriller now […]

  • MX Player पर DAMAGED 2 है बिल्कुल फ़्री, अभी देखें हिना ख़ान की यह साइकोलॉजिकल थ्रिलर
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 20, 2020 at 9:42 am

    डैमेज्ड 2 को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके साथ वेब सिरीज़ में अपना डेब्यू करने वाली हिना ख़ान इससे बेहद ख़ुश हैं। उन्होंने इस साइकोलॉजिकल थ्रिलर में अध्ययन सुमन के साथ काम किया है जिसे MX Player पर मुफ़्त देखा जा सकता है। सिरीज़ के लिए इस जोड़े को ख़ूब तारीफ़ें मिल रही हैं।यह एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है इस जोड़े की केमिस्ट्री का जिसे मिस नहीं किया जा सकता, साथ ही आपको बांधे रखने वाला कथानक डैमेज्ड 2 के सस्पेंस को और बढ़ाता है। इसमें हिना ख़ान गौरी बत्रा नामक सशक्त महिला के किरदार में हैं जिसकी शादी आकाश बत्रा (अध्ययन सुमन) से हुई है। यह कपल एक होमस्टे चलाता है और सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा होता है तभी उनकी पेइंग गेस्ट में से एक छोटी लड़की ग़ायब हो जाती है। भयावह है न? जैसे-जैसे शो आगे बढ़ता है, पता चलता है कि बत्रा परिवार की ज़िंदगी में सब ठीक नहीं है।अपने किरदार में आने और किरदार से निकलने को लेकर हिना ने कहा, ‘’शुरू में मैं किरदार को हर रोज़ जीती हूं। मैं वैसे ही सोती थी जैसे गौरी सोती है। लेकिन जैसे ही मैं किरदार में ढल जाती हूं, उसके बाद मैं उसमें नहीं रहूंगी क्योंकि यह एक कलाकार के लिए बहुत कठिन है। हमलोग 30 दिन तक एक प्रोजेक्ट के लिए शूट करते हैं, हर समय उस किरदार में नहीं रहा जा सकता। मेरे लिए शूट पूरा होते ही किरदार से निकलना आसान होता है क्योंकि मैं टेलिविज़न बैकग्राउंड से हूं। किरदार में ढलने के बाद पैकअप के साथ ही मैं उससे निकल जाती हूं।कहानी में आगे और क्या है, जानने के लिए क्लिक करें औरदेखें डैमेज्ड 2 फ़्री मेंMX Player अपने दर्शकों को देता है प्रीमियम कंटेंट मुफ़्त में। डैमेज्ड 2 में आगे क्या होता है, जानने के लिए अभी देखें MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today DAMAGED 2 on MX Player is absolutely free, watch Hina Khan's psychological thriller now […]

  • MX Player पर DAMAGED 2 है बिल्कुल फ़्री, अभी देखें हिना ख़ान की यह साइकोलॉजिकल थ्रिलर
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 20, 2020 at 9:42 am

    डैमेज्ड 2 को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके साथ वेब सिरीज़ में अपना डेब्यू करने वाली हिना ख़ान इससे बेहद ख़ुश हैं। उन्होंने इस साइकोलॉजिकल थ्रिलर में अध्ययन सुमन के साथ काम किया है जिसे MX Player पर मुफ़्त देखा जा सकता है। सिरीज़ के लिए इस जोड़े को ख़ूब तारीफ़ें मिल रही हैं।यह एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है इस जोड़े की केमिस्ट्री का जिसे मिस नहीं किया जा सकता, साथ ही आपको बांधे रखने वाला कथानक डैमेज्ड 2 के सस्पेंस को और बढ़ाता है। इसमें हिना ख़ान गौरी बत्रा नामक सशक्त महिला के किरदार में हैं जिसकी शादी आकाश बत्रा (अध्ययन सुमन) से हुई है। यह कपल एक होमस्टे चलाता है और सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा होता है तभी उनकी पेइंग गेस्ट में से एक छोटी लड़की ग़ायब हो जाती है। भयावह है न? जैसे-जैसे शो आगे बढ़ता है, पता चलता है कि बत्रा परिवार की ज़िंदगी में सब ठीक नहीं है।अपने किरदार में आने और किरदार से निकलने को लेकर हिना ने कहा, ‘’शुरू में मैं किरदार को हर रोज़ जीती हूं। मैं वैसे ही सोती थी जैसे गौरी सोती है। लेकिन जैसे ही मैं किरदार में ढल जाती हूं, उसके बाद मैं उसमें नहीं रहूंगी क्योंकि यह एक कलाकार के लिए बहुत कठिन है। हमलोग 30 दिन तक एक प्रोजेक्ट के लिए शूट करते हैं, हर समय उस किरदार में नहीं रहा जा सकता। मेरे लिए शूट पूरा होते ही किरदार से निकलना आसान होता है क्योंकि मैं टेलिविज़न बैकग्राउंड से हूं। किरदार में ढलने के बाद पैकअप के साथ ही मैं उससे निकल जाती हूं।कहानी में आगे और क्या है, जानने के लिए क्लिक करें औरदेखें डैमेज्ड 2 फ़्री मेंMX Player अपने दर्शकों को देता है प्रीमियम कंटेंट मुफ़्त में। डैमेज्ड 2 में आगे क्या होता है, जानने के लिए अभी देखें MX Player पर! Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today DAMAGED 2 on MX Player is absolutely free, watch Hina Khan's psychological thriller now […]

  • भारत के सबसे बड़े स्नातक फिल्म महोत्सव फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल का हुआ सफलतापूर्वक समापन
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 16, 2020 at 10:58 am

    2003 में शुरू किया गया, फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल SIES कॉलेज ऑफ आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स के बीएमएम विभाग द्वारा एक पहल है। यह फिल्म निर्माताओं द्वारा फिल्म निर्माण कौशल दिखाने के लिए एक मंच के रूप में खड़ा है। वर्तमान में, यह भारत का सबसे बड़ा स्नातक फिल्म महोत्सव है। इस वर्ष, उत्सव में लगभग 115 देशों से 3000 से अधिक प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। तीन दिवसीय कार्यक्रम में सात अलग-अलग श्रेणियों की स्क्रीनिंग आयोजित की जाती है, जिसका नाम है शॉर्ट फिल्म्स- अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय, वृत्तचित्र, कंटिंजेंट फिल्में, विज्ञापन फिल्में, एनीमेशन और संगीत वीडियो। यह फेस्टिवल 9, 10 और 11 जनवरी, 2020 को हुआ। यह फेस्टिवल 'ज़ी 5', सह-पार्टनर ‘कल्पा तारू’ द्वारा संचालित और 'एमटीवी बीट्स इंडिया' और 'वीएच 1' द्वारा सह-संचालित है।इस वर्ष का विषय नक़ाब है- अनदेखी देखें। विषय का उद्देश्य फिल्म के चालक दल को सराहना करने के लिए है जो फिल्म बनाने के लिए पर्दे के पीछे कड़ी मेहनत करता है। यह नक़ाब की सराहना करता है जो एक अभिनेता कैमरे के सामने भी पहनता है।9 जनवरी को उद्घाटन समारोह 11 बजे अनुभवी अभिनेत्री पूनम ढिल्लों की उपस्थिति में शुरू हुआ। वह अपनी फिल्म ‘जय मम्मी दी’ का प्रचार करने के लिए कॉलेज परिसर गई थीं l उन्होंने कॉलेज प्रबंधन के साथ मिलकर दीप प्रज्जवलित किया और महोत्सव की शुरुआत की। छात्रों ने फिल्म की धुनों पर नृत्य किया और ट्रेलर देखा। अभिनेत्री ने नई पीढ़ी की माताओं के बारे में अपने विचार साझा किए और कॉलेज द्वारा प्राप्त उत्साह को व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "छात्र आज यहां एक सकारात्मक भावना के साथ हैं। मैं इस तरह की फिल्म के प्रति उत्साही लोगों के बीच अपनी फिल्म का प्रचार करने के लिए बहुत खुश हूं।" उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत की और सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं।स्क्रीनिंग ने पहली श्रेणी- इंटरनेशनल शॉर्ट फिल्म्स के साथ किकस्टार्ट किया। फ़िल्में फ्रांस, इज़राइल, अर्जेंटीना और कई देशों की थीं। सत्र के निर्णायक मंडल में ज़ोया हुसैन, पवन चोपड़ा और मंजरी फडनीस थे। शॉर्टलिस्ट की गई 8 फिल्मों की स्क्रीनिंग की गई। न्यायाधीशों ने सामग्री की श्रेणी का आनंद लिया। उन्होंने वहां होने के लिए आभार व्यक्त करते हुए मीडिया से बात की।त्योहार ने 16 साल में पहली बार एक श्रेणी पेश की- थिएटर। यह एक अभिनेता के कौशल को पोषण और सराहना करने के उद्देश्य से किया गया था, जो किसी और की छाया में भंग करके फिल्म में समान रूप से योगदान देता है। इस समारोह के निर्णायक डॉली ठाकोर और अरविंद गौड़ थे। एक्ट 'कुर्सी' ने राजनीतिक वास्तविकता को पेश करते हुए दर्शकों का दिल जीत लिया। ‘नक़ाब’ विषय पर आधारित एक अभिनय किया गया। न्यायाधीशों ने कृत्यों की बहुत सराहना की और युवा दर्शकों को उनके प्रेरक शब्दों से प्रेरित किया।दिन के लिए आखिरी स्क्रीनिंग नेशनल शॉर्ट फिल्म्स थी। निर्णायक फरज सांझी, यशपाल शर्मा और विजय लालवानी थे। न्यायाधीशों के साथ दर्शकों ने हमारे देश में विभिन्न राज्यों से प्राप्त फिल्मों का आनंद लिया, प्रत्येक सामग्री और भाषा के पहलू में एक दूसरे से अलग थे। न्यायाधीशों ने भीड़ से हर भाषा की सुंदरता और लोगों के अनोखे तरीकों से उनके दर्शन कराने की इच्छा के बारे में बात की।दूसरे दिन की शुरुआत अनिल चंदेल, कृष्णकांत पंड्या और ब्रह्मानंद सिंह की मौजूदगी में वृत्तचित्रों की स्क्रीनिंग के साथ हुई। जिस एंट्री ने सबका दिल जीत लिया वो थी ‘मैदा’। इसने एक लड़की को दिखाया, जो पढ़ाई में उत्कृष्ट है और कैसे उसे अपरिपक्व उम्र में शादी करने के लिए स्कूल छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता है। इसने बाल विवाह और दहेज की संस्कृति के बारे में बात की जिसने हमारे देश में बहुत सारी लड़कियों की क्षमता को बर्बाद कर दिया है। न्यायाधीशों ने कहा कि वे स्क्रीनिंग में भाग लेने के लिए बहुत खुश थे और उन्हें कुछ अद्भुत कामों का अनुभव मिला।कंटिंजेंट फिल्मों के लिए स्क्रीनिंग में मुंबई के विभिन्न कॉलेजों से प्रविष्टियाँ प्राप्त हुईं। सत्र का संचालन हरमन सिंहा, अभिनव शुक्ला और प्रणय पचौरी ने किया। वे युवा छात्रों द्वारा बनाई गई फिल्मों से अभिभूत थे, जिन्होंने समानता, आत्मरक्षा जैसे मुद्दों को संबोधित किया। यह आयोजन SIES ट्रस्ट के उपाध्यक्ष श्री पी सेठुरमन की उपस्थिति में आयोजित किया गया lपैनल चर्चा के लिए, लघु फिल्म 'द लेटर' (एक पत्र) के चालक दल ने कॉलेज का दौरा किया। दल में निर्देशक दीषक पत्रा, छायाकार अंकुर हिंग, लेखक रसिका कुष्टे और प्रमुख अभिनेता गौरव अलुघ शामिल थे। कहानी उनके घरों के साथ स्नेह के बारे में है। लेखिका ने कहा कि उन्होंने इस विषय को इसलिए चुना क्योंकि घर ने हर व्यक्ति के आनंद और दुःख को देखा है l "यही चीज़ एक मकान को घर में बदलती है” उसने कहा lविज्ञापन निर्देशक विवेक कामथ और मॉडल साक्षी शिवदासानी द्वारा देखी गई दिन के लिए अंतिम स्क्रीनिंग विज्ञापन फिल्मों की थी। विज्ञापनों को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया था- सार्वजनिक सेवा विज्ञापन और वाणिज्यिक विज्ञापन। विज्ञापन में महिला दुर्व्यवहार से लेकर हेलमेट सुरक्षा तक, प्रत्येक में युवा दर्शकों के लिए एक संदेश दिया गया था। न्यायाधीशों ने मीडिया उद्योग में मौजूदा स्थिति और विज्ञापन के भविष्य के बारे में बात की।तीसरे दिन की शुरुआत चेतन शर्मा, कीरत खुराना और ईशा अग्रवाल ने एनिमेशन श्रेणी को देखते हुए की। आशावाद और साम्यवाद को कवर करने वाली अवधारणाओं में हास्य रहस्य से लेकर कहानियाँ तक थीं। उन्होंने कहा, "काश कि हमें अपने शुरुआती दिनों में ऐसा कोई मंच मिल पाता।" उन्होंने प्राप्त अवसरों को महत्व देने के लिए छात्रों से बात की। न्यायाधीशों ने उद्योग में एनीमेशन के बढ़ते दायरे का उल्लेख किया।अंतिम स्क्रीनिंग श्रेणी म्यूजिक वीडियो के लिए थी, जिसे कलाकार शाहिद माल्या, पवनी पांडे और नैटिक नागदा ने किया था। वीडियो भारत, ब्रिटेन, स्पेन और कई और देशों से थे। न्यायाधीशों ने वीडियो का आनंद लिया और जिस तरह से वीडियो गाने के बोल के साथ समन्वित था, उससे बहुत खुश थे। उन्होंने कमरे में इच्छुक संगीतकारों को गीतों को इस तरह से व्यक्त करने की सलाह दी, जो दर्शकों की भावनाओं से जुड़ सके। उन्होंने अपने हिट गानों का लाइव प्रदर्शन किया और जज पैनल का हिस्सा बनने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।पुरस्कार समारोह के अंतिम खंड में जजों और दर्शकों का दिल जीतने वाली कहानियों द्वारा कुछ महान जीतें देखी गईं। संकाय ने दुनिया भर से कुछ बेहतरीन कार्यों को वितरित करने में फ्रेम्स 2020 द्वारा किए गए प्रयास की सराहना की। विजेताओं को सम्मानित किया गया और उन कहानियों पर फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया गया, जिन्हें आज के समय में कहा जाना चाहिए। कुल मिलाकर, टीम फ्रेम्स इवेंट के आयोजन में सफल रही और कहा कि भविष्य में बड़ा और बेहतर बनने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded […]

  • भारत के सबसे बड़े स्नातक फिल्म महोत्सव फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल का हुआ सफलतापूर्वक समापन
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 16, 2020 at 10:58 am

    2003 में शुरू किया गया, फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल SIES कॉलेज ऑफ आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स के बीएमएम विभाग द्वारा एक पहल है। यह फिल्म निर्माताओं द्वारा फिल्म निर्माण कौशल दिखाने के लिए एक मंच के रूप में खड़ा है। वर्तमान में, यह भारत का सबसे बड़ा स्नातक फिल्म महोत्सव है। इस वर्ष, उत्सव में लगभग 115 देशों से 3000 से अधिक प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। तीन दिवसीय कार्यक्रम में सात अलग-अलग श्रेणियों की स्क्रीनिंग आयोजित की जाती है, जिसका नाम है शॉर्ट फिल्म्स- अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय, वृत्तचित्र, कंटिंजेंट फिल्में, विज्ञापन फिल्में, एनीमेशन और संगीत वीडियो। यह फेस्टिवल 9, 10 और 11 जनवरी, 2020 को हुआ। यह फेस्टिवल 'ज़ी 5', सह-पार्टनर ‘कल्पा तारू’ द्वारा संचालित और 'एमटीवी बीट्स इंडिया' और 'वीएच 1' द्वारा सह-संचालित है।इस वर्ष का विषय नक़ाब है- अनदेखी देखें। विषय का उद्देश्य फिल्म के चालक दल को सराहना करने के लिए है जो फिल्म बनाने के लिए पर्दे के पीछे कड़ी मेहनत करता है। यह नक़ाब की सराहना करता है जो एक अभिनेता कैमरे के सामने भी पहनता है।9 जनवरी को उद्घाटन समारोह 11 बजे अनुभवी अभिनेत्री पूनम ढिल्लों की उपस्थिति में शुरू हुआ। वह अपनी फिल्म ‘जय मम्मी दी’ का प्रचार करने के लिए कॉलेज परिसर गई थीं l उन्होंने कॉलेज प्रबंधन के साथ मिलकर दीप प्रज्जवलित किया और महोत्सव की शुरुआत की। छात्रों ने फिल्म की धुनों पर नृत्य किया और ट्रेलर देखा। अभिनेत्री ने नई पीढ़ी की माताओं के बारे में अपने विचार साझा किए और कॉलेज द्वारा प्राप्त उत्साह को व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "छात्र आज यहां एक सकारात्मक भावना के साथ हैं। मैं इस तरह की फिल्म के प्रति उत्साही लोगों के बीच अपनी फिल्म का प्रचार करने के लिए बहुत खुश हूं।" उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत की और सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं।स्क्रीनिंग ने पहली श्रेणी- इंटरनेशनल शॉर्ट फिल्म्स के साथ किकस्टार्ट किया। फ़िल्में फ्रांस, इज़राइल, अर्जेंटीना और कई देशों की थीं। सत्र के निर्णायक मंडल में ज़ोया हुसैन, पवन चोपड़ा और मंजरी फडनीस थे। शॉर्टलिस्ट की गई 8 फिल्मों की स्क्रीनिंग की गई। न्यायाधीशों ने सामग्री की श्रेणी का आनंद लिया। उन्होंने वहां होने के लिए आभार व्यक्त करते हुए मीडिया से बात की।त्योहार ने 16 साल में पहली बार एक श्रेणी पेश की- थिएटर। यह एक अभिनेता के कौशल को पोषण और सराहना करने के उद्देश्य से किया गया था, जो किसी और की छाया में भंग करके फिल्म में समान रूप से योगदान देता है। इस समारोह के निर्णायक डॉली ठाकोर और अरविंद गौड़ थे। एक्ट 'कुर्सी' ने राजनीतिक वास्तविकता को पेश करते हुए दर्शकों का दिल जीत लिया। ‘नक़ाब’ विषय पर आधारित एक अभिनय किया गया। न्यायाधीशों ने कृत्यों की बहुत सराहना की और युवा दर्शकों को उनके प्रेरक शब्दों से प्रेरित किया।दिन के लिए आखिरी स्क्रीनिंग नेशनल शॉर्ट फिल्म्स थी। निर्णायक फरज सांझी, यशपाल शर्मा और विजय लालवानी थे। न्यायाधीशों के साथ दर्शकों ने हमारे देश में विभिन्न राज्यों से प्राप्त फिल्मों का आनंद लिया, प्रत्येक सामग्री और भाषा के पहलू में एक दूसरे से अलग थे। न्यायाधीशों ने भीड़ से हर भाषा की सुंदरता और लोगों के अनोखे तरीकों से उनके दर्शन कराने की इच्छा के बारे में बात की।दूसरे दिन की शुरुआत अनिल चंदेल, कृष्णकांत पंड्या और ब्रह्मानंद सिंह की मौजूदगी में वृत्तचित्रों की स्क्रीनिंग के साथ हुई। जिस एंट्री ने सबका दिल जीत लिया वो थी ‘मैदा’। इसने एक लड़की को दिखाया, जो पढ़ाई में उत्कृष्ट है और कैसे उसे अपरिपक्व उम्र में शादी करने के लिए स्कूल छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता है। इसने बाल विवाह और दहेज की संस्कृति के बारे में बात की जिसने हमारे देश में बहुत सारी लड़कियों की क्षमता को बर्बाद कर दिया है। न्यायाधीशों ने कहा कि वे स्क्रीनिंग में भाग लेने के लिए बहुत खुश थे और उन्हें कुछ अद्भुत कामों का अनुभव मिला।कंटिंजेंट फिल्मों के लिए स्क्रीनिंग में मुंबई के विभिन्न कॉलेजों से प्रविष्टियाँ प्राप्त हुईं। सत्र का संचालन हरमन सिंहा, अभिनव शुक्ला और प्रणय पचौरी ने किया। वे युवा छात्रों द्वारा बनाई गई फिल्मों से अभिभूत थे, जिन्होंने समानता, आत्मरक्षा जैसे मुद्दों को संबोधित किया। यह आयोजन SIES ट्रस्ट के उपाध्यक्ष श्री पी सेठुरमन की उपस्थिति में आयोजित किया गया lपैनल चर्चा के लिए, लघु फिल्म 'द लेटर' (एक पत्र) के चालक दल ने कॉलेज का दौरा किया। दल में निर्देशक दीषक पत्रा, छायाकार अंकुर हिंग, लेखक रसिका कुष्टे और प्रमुख अभिनेता गौरव अलुघ शामिल थे। कहानी उनके घरों के साथ स्नेह के बारे में है। लेखिका ने कहा कि उन्होंने इस विषय को इसलिए चुना क्योंकि घर ने हर व्यक्ति के आनंद और दुःख को देखा है l "यही चीज़ एक मकान को घर में बदलती है” उसने कहा lविज्ञापन निर्देशक विवेक कामथ और मॉडल साक्षी शिवदासानी द्वारा देखी गई दिन के लिए अंतिम स्क्रीनिंग विज्ञापन फिल्मों की थी। विज्ञापनों को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया था- सार्वजनिक सेवा विज्ञापन और वाणिज्यिक विज्ञापन। विज्ञापन में महिला दुर्व्यवहार से लेकर हेलमेट सुरक्षा तक, प्रत्येक में युवा दर्शकों के लिए एक संदेश दिया गया था। न्यायाधीशों ने मीडिया उद्योग में मौजूदा स्थिति और विज्ञापन के भविष्य के बारे में बात की।तीसरे दिन की शुरुआत चेतन शर्मा, कीरत खुराना और ईशा अग्रवाल ने एनिमेशन श्रेणी को देखते हुए की। आशावाद और साम्यवाद को कवर करने वाली अवधारणाओं में हास्य रहस्य से लेकर कहानियाँ तक थीं। उन्होंने कहा, "काश कि हमें अपने शुरुआती दिनों में ऐसा कोई मंच मिल पाता।" उन्होंने प्राप्त अवसरों को महत्व देने के लिए छात्रों से बात की। न्यायाधीशों ने उद्योग में एनीमेशन के बढ़ते दायरे का उल्लेख किया।अंतिम स्क्रीनिंग श्रेणी म्यूजिक वीडियो के लिए थी, जिसे कलाकार शाहिद माल्या, पवनी पांडे और नैटिक नागदा ने किया था। वीडियो भारत, ब्रिटेन, स्पेन और कई और देशों से थे। न्यायाधीशों ने वीडियो का आनंद लिया और जिस तरह से वीडियो गाने के बोल के साथ समन्वित था, उससे बहुत खुश थे। उन्होंने कमरे में इच्छुक संगीतकारों को गीतों को इस तरह से व्यक्त करने की सलाह दी, जो दर्शकों की भावनाओं से जुड़ सके। उन्होंने अपने हिट गानों का लाइव प्रदर्शन किया और जज पैनल का हिस्सा बनने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।पुरस्कार समारोह के अंतिम खंड में जजों और दर्शकों का दिल जीतने वाली कहानियों द्वारा कुछ महान जीतें देखी गईं। संकाय ने दुनिया भर से कुछ बेहतरीन कार्यों को वितरित करने में फ्रेम्स 2020 द्वारा किए गए प्रयास की सराहना की। विजेताओं को सम्मानित किया गया और उन कहानियों पर फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया गया, जिन्हें आज के समय में कहा जाना चाहिए। कुल मिलाकर, टीम फ्रेम्स इवेंट के आयोजन में सफल रही और कहा कि भविष्य में बड़ा और बेहतर बनने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded […]

  • भारत के सबसे बड़े स्नातक फिल्म महोत्सव फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल का हुआ सफलतापूर्वक समापन
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 16, 2020 at 10:58 am

    2003 में शुरू किया गया, फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल SIES कॉलेज ऑफ आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स के बीएमएम विभाग द्वारा एक पहल है। यह फिल्म निर्माताओं द्वारा फिल्म निर्माण कौशल दिखाने के लिए एक मंच के रूप में खड़ा है। वर्तमान में, यह भारत का सबसे बड़ा स्नातक फिल्म महोत्सव है। इस वर्ष, उत्सव में लगभग 115 देशों से 3000 से अधिक प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। तीन दिवसीय कार्यक्रम में सात अलग-अलग श्रेणियों की स्क्रीनिंग आयोजित की जाती है, जिसका नाम है शॉर्ट फिल्म्स- अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय, वृत्तचित्र, कंटिंजेंट फिल्में, विज्ञापन फिल्में, एनीमेशन और संगीत वीडियो। यह फेस्टिवल 9, 10 और 11 जनवरी, 2020 को हुआ। यह फेस्टिवल 'ज़ी 5', सह-पार्टनर ‘कल्पा तारू’ द्वारा संचालित और 'एमटीवी बीट्स इंडिया' और 'वीएच 1' द्वारा सह-संचालित है।इस वर्ष का विषय नक़ाब है- अनदेखी देखें। विषय का उद्देश्य फिल्म के चालक दल को सराहना करने के लिए है जो फिल्म बनाने के लिए पर्दे के पीछे कड़ी मेहनत करता है। यह नक़ाब की सराहना करता है जो एक अभिनेता कैमरे के सामने भी पहनता है।9 जनवरी को उद्घाटन समारोह 11 बजे अनुभवी अभिनेत्री पूनम ढिल्लों की उपस्थिति में शुरू हुआ। वह अपनी फिल्म ‘जय मम्मी दी’ का प्रचार करने के लिए कॉलेज परिसर गई थीं l उन्होंने कॉलेज प्रबंधन के साथ मिलकर दीप प्रज्जवलित किया और महोत्सव की शुरुआत की। छात्रों ने फिल्म की धुनों पर नृत्य किया और ट्रेलर देखा। अभिनेत्री ने नई पीढ़ी की माताओं के बारे में अपने विचार साझा किए और कॉलेज द्वारा प्राप्त उत्साह को व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "छात्र आज यहां एक सकारात्मक भावना के साथ हैं। मैं इस तरह की फिल्म के प्रति उत्साही लोगों के बीच अपनी फिल्म का प्रचार करने के लिए बहुत खुश हूं।" उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत की और सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं।स्क्रीनिंग ने पहली श्रेणी- इंटरनेशनल शॉर्ट फिल्म्स के साथ किकस्टार्ट किया। फ़िल्में फ्रांस, इज़राइल, अर्जेंटीना और कई देशों की थीं। सत्र के निर्णायक मंडल में ज़ोया हुसैन, पवन चोपड़ा और मंजरी फडनीस थे। शॉर्टलिस्ट की गई 8 फिल्मों की स्क्रीनिंग की गई। न्यायाधीशों ने सामग्री की श्रेणी का आनंद लिया। उन्होंने वहां होने के लिए आभार व्यक्त करते हुए मीडिया से बात की।त्योहार ने 16 साल में पहली बार एक श्रेणी पेश की- थिएटर। यह एक अभिनेता के कौशल को पोषण और सराहना करने के उद्देश्य से किया गया था, जो किसी और की छाया में भंग करके फिल्म में समान रूप से योगदान देता है। इस समारोह के निर्णायक डॉली ठाकोर और अरविंद गौड़ थे। एक्ट 'कुर्सी' ने राजनीतिक वास्तविकता को पेश करते हुए दर्शकों का दिल जीत लिया। ‘नक़ाब’ विषय पर आधारित एक अभिनय किया गया। न्यायाधीशों ने कृत्यों की बहुत सराहना की और युवा दर्शकों को उनके प्रेरक शब्दों से प्रेरित किया।दिन के लिए आखिरी स्क्रीनिंग नेशनल शॉर्ट फिल्म्स थी। निर्णायक फरज सांझी, यशपाल शर्मा और विजय लालवानी थे। न्यायाधीशों के साथ दर्शकों ने हमारे देश में विभिन्न राज्यों से प्राप्त फिल्मों का आनंद लिया, प्रत्येक सामग्री और भाषा के पहलू में एक दूसरे से अलग थे। न्यायाधीशों ने भीड़ से हर भाषा की सुंदरता और लोगों के अनोखे तरीकों से उनके दर्शन कराने की इच्छा के बारे में बात की।दूसरे दिन की शुरुआत अनिल चंदेल, कृष्णकांत पंड्या और ब्रह्मानंद सिंह की मौजूदगी में वृत्तचित्रों की स्क्रीनिंग के साथ हुई। जिस एंट्री ने सबका दिल जीत लिया वो थी ‘मैदा’। इसने एक लड़की को दिखाया, जो पढ़ाई में उत्कृष्ट है और कैसे उसे अपरिपक्व उम्र में शादी करने के लिए स्कूल छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता है। इसने बाल विवाह और दहेज की संस्कृति के बारे में बात की जिसने हमारे देश में बहुत सारी लड़कियों की क्षमता को बर्बाद कर दिया है। न्यायाधीशों ने कहा कि वे स्क्रीनिंग में भाग लेने के लिए बहुत खुश थे और उन्हें कुछ अद्भुत कामों का अनुभव मिला।कंटिंजेंट फिल्मों के लिए स्क्रीनिंग में मुंबई के विभिन्न कॉलेजों से प्रविष्टियाँ प्राप्त हुईं। सत्र का संचालन हरमन सिंहा, अभिनव शुक्ला और प्रणय पचौरी ने किया। वे युवा छात्रों द्वारा बनाई गई फिल्मों से अभिभूत थे, जिन्होंने समानता, आत्मरक्षा जैसे मुद्दों को संबोधित किया। यह आयोजन SIES ट्रस्ट के उपाध्यक्ष श्री पी सेठुरमन की उपस्थिति में आयोजित किया गया lपैनल चर्चा के लिए, लघु फिल्म 'द लेटर' (एक पत्र) के चालक दल ने कॉलेज का दौरा किया। दल में निर्देशक दीषक पत्रा, छायाकार अंकुर हिंग, लेखक रसिका कुष्टे और प्रमुख अभिनेता गौरव अलुघ शामिल थे। कहानी उनके घरों के साथ स्नेह के बारे में है। लेखिका ने कहा कि उन्होंने इस विषय को इसलिए चुना क्योंकि घर ने हर व्यक्ति के आनंद और दुःख को देखा है l "यही चीज़ एक मकान को घर में बदलती है” उसने कहा lविज्ञापन निर्देशक विवेक कामथ और मॉडल साक्षी शिवदासानी द्वारा देखी गई दिन के लिए अंतिम स्क्रीनिंग विज्ञापन फिल्मों की थी। विज्ञापनों को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया था- सार्वजनिक सेवा विज्ञापन और वाणिज्यिक विज्ञापन। विज्ञापन में महिला दुर्व्यवहार से लेकर हेलमेट सुरक्षा तक, प्रत्येक में युवा दर्शकों के लिए एक संदेश दिया गया था। न्यायाधीशों ने मीडिया उद्योग में मौजूदा स्थिति और विज्ञापन के भविष्य के बारे में बात की।तीसरे दिन की शुरुआत चेतन शर्मा, कीरत खुराना और ईशा अग्रवाल ने एनिमेशन श्रेणी को देखते हुए की। आशावाद और साम्यवाद को कवर करने वाली अवधारणाओं में हास्य रहस्य से लेकर कहानियाँ तक थीं। उन्होंने कहा, "काश कि हमें अपने शुरुआती दिनों में ऐसा कोई मंच मिल पाता।" उन्होंने प्राप्त अवसरों को महत्व देने के लिए छात्रों से बात की। न्यायाधीशों ने उद्योग में एनीमेशन के बढ़ते दायरे का उल्लेख किया।अंतिम स्क्रीनिंग श्रेणी म्यूजिक वीडियो के लिए थी, जिसे कलाकार शाहिद माल्या, पवनी पांडे और नैटिक नागदा ने किया था। वीडियो भारत, ब्रिटेन, स्पेन और कई और देशों से थे। न्यायाधीशों ने वीडियो का आनंद लिया और जिस तरह से वीडियो गाने के बोल के साथ समन्वित था, उससे बहुत खुश थे। उन्होंने कमरे में इच्छुक संगीतकारों को गीतों को इस तरह से व्यक्त करने की सलाह दी, जो दर्शकों की भावनाओं से जुड़ सके। उन्होंने अपने हिट गानों का लाइव प्रदर्शन किया और जज पैनल का हिस्सा बनने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।पुरस्कार समारोह के अंतिम खंड में जजों और दर्शकों का दिल जीतने वाली कहानियों द्वारा कुछ महान जीतें देखी गईं। संकाय ने दुनिया भर से कुछ बेहतरीन कार्यों को वितरित करने में फ्रेम्स 2020 द्वारा किए गए प्रयास की सराहना की। विजेताओं को सम्मानित किया गया और उन कहानियों पर फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया गया, जिन्हें आज के समय में कहा जाना चाहिए। कुल मिलाकर, टीम फ्रेम्स इवेंट के आयोजन में सफल रही और कहा कि भविष्य में बड़ा और बेहतर बनने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded Frames Film Festival, India's largest graduation film festival, successfully concluded […]

  • सिम्फनी- "द कटिंग एज" 2020 इवेंट का हुआ सफलतापूर्वक समापन
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 11, 2020 at 9:43 am

    जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज का वार्षिक सांस्कृतिक उत्सव सिम्फनी 8 जनवरी, 2020 को प्रबुद्ध प्रदर्शन और भागीदारी के साथ शुरू हुआ था।तीन दिन तक चलने वाले इस इवेंट में हिंसा के खिलाफ शांति और एकता का संदेश दिया गया।इस साल अपने विषय के अनुसार, "द कटिंग एज", सिम्फनी अपने सबसे उन्नत रूपों में प्रतियोगिताओं और प्रदर्शनों का एक समूह था।इस साल सिम्फनी को न केवल एक उत्सव के रूप में मनाया गया, बल्कि हिंसा के खिलाफ शांति और एकता के प्रतीक के रूप में, जिसमें छात्रों ने इस कारण का समर्थन करने के लिए काले रंग की पोशाक पहनी थी।शैक्षिक संस्थानों के खिलाफ हिंसा और क्रूरता के कठिन समय में शांति और सद्भाव के साथ दिलों को एकजुट करने के लिए सिम्फनी मनाई गई थी।तीन दिनों में लगभग 30 इवेंट्स किए गए, पहले दिन के मुख्य आकर्षण के रूप में मुनादी-द स्ट्रीट प्ले प्रतियोगिता थी। जबकि दिन 2 उन प्रतिभाओं से भरा था, जिन्होंने प्रतिभा की खोज की थी, दिन का मुख्य विषय फुटलोज़-द वेस्टर्न डांस प्रतियोगिता और झंकार-द फोक डांस प्रतियोगिता था।इस उत्सव में ला पीनो पिज्जा, बर्गर क्लब, करोबार इत्यादि ब्रांडों के साथ स्टोल और आभूषण से लेकर स्टेशनरी और चॉकलेट तक के उत्पादों के साथ अद्भुत भोजन और खरीदारी के स्टाल लगाए गए थे।फेस्ट का तीसरा दिन आरधि-द क्लासिकल डांस प्रतियोगिता, रागिनी-हिंदुस्तानी क्लासिकल सोलो वोकल, अंजलि-रंगोली और मेहंदी प्रतियोगिता आदि जैसे प्रतियोगिताओं के साथ शुरू हुआ और एक और केवल जस माणक, पंजाबी सिंगर के रूप में एक आकर्षक नोट पर समाप्त हुआ। गीत-लेखक ने कुछ पंजाबी और बॉलीवुड गीतों के साथ-साथ लीन्गा, प्रादा और विया जैसी अपनी सर्वश्रेष्ठ रचनाओं को गाया।सिम्फनी को एक विशाल पदयात्रा मिली और इसे बहुत उत्साह के साथ मनाया गया।कुल मिलाकर, इस फेस्टिवल ने जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज के लिए 2020 की सफल शुरुआत की। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Symphony - "The Cutting Edge" 2020 Event Successfully Concludes Symphony - "The Cutting Edge" 2020 Event Successfully Concludes Symphony - "The Cutting Edge" 2020 Event Successfully Concludes Symphony - "The Cutting Edge" 2020 Event Successfully Concludes Symphony - "The Cutting Edge" 2020 Event Successfully Concludes […]

  • युवा और उभरते फिल्म निर्माताओं को प्रेरणा देने के लिए फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल का हुआ आयोजन
    by Dainik Bhaskar,,327 on January 10, 2020 at 11:18 am

    फ्रेम्स फिल्म फेस्टिवल भारत का सबसे बड़ा अंडरग्रेजुएट फिल्म फेस्टिवल है। यह SIES (नेरुल) कॉलेज ऑफ आर्ट्स, साइंस एंड कॉमर्स के बीएमएम विभाग द्वारा एक पहल है। यह दुनिया के विभिन्न कोनों से प्रस्तुत फिल्मों की स्क्रीनिंग की मेजबानी करता है। यह उन सभी युवा और नवोदित फिल्म निर्माताओं को प्रेरणा और आत्मविश्वास देता है, जो फिल्म निर्माण की दुनिया में कदम रखने वाले हैं। 2003 में इसकी शुरुआत हुई, तब से इसकी पहुंच बढ़ रही है। यह त्योहार 9, 10 और 11 जनवरी, 2020 को हो रहा है lइस वर्ष का विषय नक़ाब है- अनदेखी देखें। विषय का उद्देश्य फिल्म के चालक दल को मनाने के लिए है जो फिल्म बनाने के लिए पर्दे के पीछे कड़ी मेहनत करता है। यह नक़ाब की सराहना करता है जो एक अभिनेता कैमरे के सामने भी पहनता है।उद्घाटन समारोह 11 बजे शुरू हुआ, जहां दिग्गज अभिनेत्री पूनम ढिल्लों ने अपनी आगामी फिल्म ‘जय मम्मी दी’ का प्रचार करने के लिए कॉलेज का दौरा किया l उन्होंने कॉलेज के प्रबंधन के साथ दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत की। उसने आधुनिक पीढ़ी की माताओं के बारे में अपने विचार साझा किए और यह फिल्म आपके माता-पिता के साथ आपके तार को जोड़े रखने के लिए कैसे संवाद करती है। छात्रों ने फिल्म के गीतों पर नृत्य किया और ट्रेलर भी देखा। उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत की, एक मजेदार तरीके से दैनिक समस्याओं के आधुनिक समाधानों की सिफारिश की। उसने कहा कि युवा भीड़ की ऊर्जा से वह कितनी खुश है और प्रतियोगिता के लिए भाग लेने वालों को शुभकामना देती है।पहली स्क्रीनिंग 1 से शुरू हुई जिसमें सेलिब्रिटी जजों ने अंतरराष्ट्रीय लघु फिल्मों को देखा। यह विभिन्न देशों से सुंदर फिल्मों से भरा था, प्रत्येक अलग-अलग नेसजेस देते थे। न्यायाधीशों ने प्रत्येक फिल्म की विशिष्टता के बारे में बात की। उन्होंने कार्यक्रम का आनंद लिया। फ्रेम्स फिल्म फ़ेस्टिवल ने पहली बार थिएटर कार्यक्रम आयोजित किया, जहां अभिनेताओं को अपने कौशल को चित्रित करने का मौका मिलता है। इस आयोजन में विभिन्न कॉलेजों द्वारा शक्तिशाली संदेश देने वाले कृत्यों को देखा गया। दिन के लिए अंतिम डरावना राष्ट्रीय लघु फिल्में थीं, जहां संकाय ने सेलिब्रिटी जजों के साथ फिल्मों का आनंद लिया। कुल मिलाकर, फ्रेम्स फिल्म उत्सव एक सफल लॉन्च के साथ शुरू हुआ। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Frames Film Festival organized to inspire young and emerging filmmakers Frames Film Festival organized to inspire young and emerging filmmakers Frames Film Festival organized to inspire young and emerging filmmakers Frames Film Festival organized to inspire young and emerging filmmakers […]

  • सरकार ने ‘वकांडा’ से व्यापारिक रिश्ते बताए, लोग बोले- हम अब काल्पनिक देश के साथ ट्रेड वॉर शुरू करेंगे
    by Dainik Bhaskar,,327 on December 23, 2019 at 3:08 am

    वॉशिंगटन. अमेरिका के कृषि विभाग ने ‘वकांडा’ को एक मुक्त-व्यापार भागीदार देश के रूप में सूचीबद्ध किया है। फिल्म प्रोडक्शन कंपनी मार्वल यूनिवर्स में ‘वकांडा’ सुपरहीरो ‘ब्लैक पैंथर’ का काल्पनिक पूर्वी अफ्रीकी देश है। कृषि विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि किंगडम ऑफ वकांडा का नाम एक टेस्ट के दौरान गलती से सूची में आ गया।विभाग के ऑनलाइन टैरिफ ट्रैकर ने दो देशों के बीच व्यापार किए जाने वाले चीजों की एकसूची भी दी है। इसमें बतख, गधे औरगाय शामिल है। अमेरिकी मीडिया में आने के बाद विभाग को इसकी जानकारी हुई। इसके बाद काल्पनिक देश को सूची से हटाया गया। सोशल मीडिया पर इसे लेकर मजाक भी बने। लोगों ने कहा- अमेरिका अब काल्पनिक देशों के साथ ट्रेड वार शुरू कर दिया है।‘वकांडा’ का नाम पहली बार 1966 में सामने आया‘वकांडा’ का नाम पहली बार 1966 में ‘फैंटास्टिक फोर’ कॉमिक में सामने आया था। इसके बाद फिल्म ब्लैक पैंथर में दोबारा सामने आया। इस फिल्म को पिछले साल ऑस्कर भी मिला था।न्यूयॉर्क के सॉफ्टवेयर इंजीनियर फ्रांसिस सेंगने गलती से लिस्टिंग के दौरान इसका नाम सूची में डाल दिया था। उन्होंने कृषि विभाग में फैलोशिप के लिए आवेदन किया था। उन्होंने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स से कहा- जब उन्होंने पहली बार वकांडा को सूची में देखा, तो वह बेहद उलझन में थे।वकांडा का नाम सूची से हटाए जाने के बाद कृषि विभाग के प्रवक्ता ने वॉशिंगटन पोस्ट को बताया- वकांडा का नाम स्टाफ के टेस्ट के लिए डाला गया था। उन्हें इसकी उम्मीद नहीं थी कि यह सार्वजनिक हो जाएगा। वकांडा का नाम टेस्ट के बाद लिस्ट से हटा दिया जाना चाहिए था।इसके पहले भी काल्पनिक देशों का नाम वास्तविक दुनिया से जोड़ा गयायह पहली बार नहीं है जब काल्पनिक देश का नाम वास्तविक दुनिया में शामिल किया गया है। 2017 में पोलैंड के तत्कालीन विदेश मंत्री विटोल्ड वाज्जकोव्स्की ने संवाददाताओं से कहा था कि उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में पोलैंड को शामिल किए जाने को लेकर चर्चा के लिए कई देशों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। जैसे बेलीज या सैन एस्कोबार। जबकि ऐसे किसी देश का कोई अस्तित्व ही नहीं है।कई बार वास्तविक देशों का नाम भी हटाया गयाकभी-कभी तो ऐसा भी हुआ है कि अधिकारियों ने उन देशों को भी हटा दिया है जो वास्तव में मौजूद हैं। उदाहरण के लिए 2004 में यूरोपीय संघ की गाइडबुक के कवर में यूके समेत यूरोपीय संघ के सदस्य राज्यों का नक्शा दिखाया गया था। जबकि वेल्स का नाम ही नहीं था। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today फिल्म ब्लैंक पैंथर ने पिछले साल ऑस्कर अवॉर्ड जीता था। […]

  • साक्षी अग्रवाल, शानू गोयल और प्रशांत गुप्ता को मिला मिस, मिसिज और मिस्टर Fabb मध्य प्रदेश का खिताब
    by Dainik Bhaskar,,327 on December 17, 2019 at 12:00 pm

    भारत के सबसे मशहूर ब्युटि पेजेंट, Miss/Mrs/Mr Fabb इंडिया अब पहुंचा है मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में। आपको बता दें इंदौर का ये दूसरा सीजन है।Miss Fabb के ऑडिशन 23 नवंबर को भोपाल और 24 नवंबर को इंदौर शहर के रिलाइन्स ट्रेंड स्टोर में आयोजित किए गए थे। 700 से भी ज़्यादा महत्वाकांशी मॉडल्स ने इस ऑडिशन मे भाग लिया जिनका चयन करीब 4000 से भी ज़्यादा ऑनलाइन एंट्रीज़ में से किया गया था।इससे पहले मुंबई, पुणे, सूरत, अहमदाबाद, नागपुर, रायपुर, जयपुर जैसे कई बड़े शहरों में सफलतापूर्वक आयोजित किया जा चुका है जिसे वहाँ के लोगों का खूब प्यार और सम्मान भी प्राप्त हुआ है। इसका आयोजन फ़ैशन के क्षेत्र में मशहूर Qnox Advertising द्वारा किया गया है जो अपने सूक्ष्म और निष्पक्ष निर्णय के जाना जाता है। इसके अंतर्गत Miss/Mrs/Mr Fabb के खिताब धारकों का निष्पक्ष चयन किया जाता है।कुल मिलकर 70 प्रतियोगियों को मध्य प्रदेश के ग्रेंड फ़िनाले के लिए चुना गया। इसके बाद इस शो के विजेताओं को दूसरे शहर के विजेताओं के साथ Miss,Mrs और Mr Fabb इंडिया के खिताबों के लिए प्रतिस्पर्धा करनी पड़ेगी।ऐसी हुई फ़ाइनल की तैयारी-इस शो में सभी 70 फाइनलिस्ट को जाने माने कोरियोग्राफर वैशाली वर्मा, इंटरेक्टिव वर्कशॉप के जरिये ग्रेंड फ़िनाले के लिए तैयार किया गया। इस वर्कशॉप में Q&A राउंड, रैम्प वॉक जैसी फील्ड में ट्रेनिंग दी गयी थी।Teasure Island Mall में 8 दिसंबर की रात को झूम उठा था Miss,Mrs और Mr Fabb का आखिरी पड़ाव था जो इन 70 फाइनलिस्ट को पार करना था जिसके बाद सिर्फ 3 लोगों को खिताब का सौभाग्य प्राप्त हुआ। जिसके बाद साक्षी अग्रवाल को Miss Fabb मध्य प्रदेश का खिताब, शानू गोयल को Mrs Fabb मध्य प्रदेश का खिताब और प्रशांत गुप्ता को Mr Fabb मध्य प्रदेश का खिताब का खिताब मिला।वैसे ही 1 st और 2 nd रनर अप , Miss Fabb मध्य प्रदेश का खिताब निशा शर्मा और पूरवा बगेल को मिला। Miss Fabb popular आर्या गर्ग के नाम हुआ।Mrs Fabb मध्य प्रदेश के 1 st और 2 nd रनर अप संगीता ठाकुर और रेणु अघव/सोनू जैन को मिला। वहीं MrsFabb popular चैतन्या नामदेव के नाम हुआ।Mr Fabb मध्य प्रदेश के श्रेणी में 1 st और 2 nd रनर अप का खिताब शिवांश जाधव और आशुतोष महेश्वरी को मिला। वहीं Mr Fabb popular हिमांशु पटेल के नाम हुआ। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Sakshi Aggarwal, Shanu Goyal and Prashant Gupta get Miss, Misses and Mr. Fabb Madhya Pradesh titles Sakshi Aggarwal, Shanu Goyal and Prashant Gupta get Miss, Misses and Mr. Fabb Madhya Pradesh titles Sakshi Aggarwal, Shanu Goyal and Prashant Gupta get Miss, Misses and Mr. Fabb Madhya Pradesh titles Sakshi Aggarwal, Shanu Goyal and Prashant Gupta get Miss, Misses and Mr. Fabb Madhya Pradesh titles Sakshi Aggarwal, Shanu Goyal and Prashant Gupta get Miss, Misses and Mr. Fabb Madhya Pradesh titles […]

  • द वायरल माइक हुआ दर्शकों के बीच फिर से वायरल 
    by Dainik Bhaskar,,327 on November 22, 2019 at 1:01 pm

    वायरल माइक फिर से अपने दर्शकों के बीच छा गया । इस बार 17 नवंबर को हुए इस इवेंट का आयोजन हैमिल्टन कोर्ट रोड, नियर गैलेरिया मार्केट, गुरुग्राम में सामुदायिक जीवन शैली में किया गया था । वायरल माइक अपने हर शो में दर्शकों के बीच अपनी छाप छोड़ता जा रहा है और अपने विभिन्न प्रोग्राम की मदद से दिन प्रतिदिन बेहतर होता जा रहा है। इस बार का शो भी हर बार की तरह एक बहुत ही अनोखा शो साबित हुआ जहां उभरते कलाकारों द्वारा विभिन्न क्षेत्रों की प्रतिभाओं को देखा जा सकता था। 17 नवंबर को हुए इस शो में पहला प्रदर्शन इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड धारक श्री डिट्टो जॉय का था जिन्होनें अपने अद्वितीय बीटबॉक्सिंग और संगीत प्रदर्शन से सभी दर्शकों का मन मोह लिया। और जब उन्होंने कंघी की मदद से संगीत का निर्माण किया तो वहाँ मौजूद सभी दर्शक आश्चर्यचकित हो गए। हालाँकि यह एक ओपन माइक था जहां अच्छे और बुरे शो का मिक्स मिलता है लेकिन फिर भी इस शो में सभी का प्रदर्शन स्टैंड-अप कॉमेडी, गायन और कविता में कमाल का था।दर्शकों को मिला एकबेहतरअनुभव-इवेंट की जगह पर दर्शकों के लिए आराम से बैठने की सुविधा कारवाई गयी थी ताकि सभी दर्शक शो का आनंद आराम से ले सकें। इस शो संरचना और वातावरण इतना अनुकूल था कि द वायरल माइक की टीम को उनके संगठन को भीड़ प्रबंधन कौशल के लिए फिर से सराहना मिली। सभी प्रदर्शनों के बाद, ऑनलाइन वोटिंग प्रणाली शुरू की गई, जहां लोगों ने सर्वसम्मति से सुश्री प्रियंका को उनकी कविता के लिए दिन के लिए सबसे अच्छा कलाकार चुना। उन्होंने अपनी कविताओं के माध्यम से लोगों से स्नेह और प्यार का इजहार किया। उसने छोटी-छोटी चीजों के महत्व को भी व्यक्त किया, जो उनकी कविता के माध्यम से लोगों के लिए बहुत मायने रखती हैं।शो के अंत में कुछ दर्शकों मंच पर आए और पूरे शो व आयोजन टीम के लिए लाइव रिव्यू भी दिया। श्री अनिर्बान ने वायरल माइक के बारे में रिव्यू देते हुए कहा "यहाँ का पर्यावरण इतना समर्थन भरा और मैत्रीपूर्ण है जो एक सच्चे रूप में कला को व्यक्त करने में सक्षम है" वहीं सुश्री प्रिया और उनके मित्र ने कहा कि "यह आश्चर्यजनक है कि द वायर माइक विभिन्न क्षेत्रों से प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करता है और केवल मुख्य धारा के कला रूपों तक ही सीमित नहीं है। यह शो को शानदार अनुभव भी देता है ”अगर आप भी वायरल माइक के इवेंट में पार्टिसिपेट करना चाहते हैं तो आने वाले इवेंट का हिस्सा बनने के लिएक्लिक करेंवायरल माइक केफेसबुकऔरइन्स्टाग्रामपर जा कर आप इससे जुड़े सभी टैलेंट को देख सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The Wiral Mic became viral again among viewers The Wiral Mic became viral again among viewers The Wiral Mic became viral again among viewers The Wiral Mic became viral again among viewers […]

  • द वायरल माइक देगा आपके अंदर छुपी प्रतिभाओं को नई पहचान 
    by Dainik Bhaskar,,327 on November 14, 2019 at 11:25 am

    कला और कलाकारों को बढ़ावा देना इस समय की सबसे बड़ी आवश्यकता है और इसी जरूरत को पूरा करने के लिए 'द वायरल माइक' पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध है। द वायरल माइक के ओपन माइक द्वारा कॉमेडी, स्लैम पोएट्री, सिंगिंग, गिटारिस्ट और गायक के क्षेत्र से कला रूपों और प्रदर्शनों की विशेषता वाले कई मनोरंजक प्रोग्राम का आयोजन करता है। इस कार्यक्रमों का आयोजन मुख्य रूप से दिल्ली, गुड़गांव और नोएडा में किया जाता है लेकिन इसकी अपार सफलता के चलते अब इसका आयोजन मुंबई, बैंगलोर, पुणे, इंदौर, ग्वालियर जैसे कई शहरों में होने लगा है। हाल ही में 'द वायरल माइक' ने 'मूड इंडिगो गॉट प्रतिभा और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के वार्षिक सांस्कृतिक उत्सव के निर्णायक और इवेंट आयोजक भी रहे। इसके साथ ही इनके द्वारा अलग -अलग दर्शकों के हिसाब से मजेदार एक्टिविटी , फ्रेशर्स पार्टी और कॉर्पोरेट इवेंट जैसे कार्यक्रमों का भी प्रबंधन और संचालन किया जाता है।इस बार ये ओपन माइक टेलेंट हंट प्रोग्राम का आयोजन 17 नवंबर 2019 को होने जा रहा है जो COHO को-लिविंग, डीएलएफ चरण -3 में किया जाएगा। जो लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हैं उनके लिए द वायर माइक अपने शो का इस्तेमाल कलाकारों के लिए टैलेंट हंटिंग ग्राउंड के रूप में भी करता है ।इन उच्च गुणवत्ता वाले कलाकारों को ओपन माइक, क्यूरेटेड शो और कॉर्पोरेट शो के दौरान फीचर्ड कलाकारों के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। ये कार्यक्रम न केवल कलाकार को बढ़ावा देता है, बल्कि विशेष शो आयोजित करने के लिए द वायरल के आयोजकों की क्षमताओं को भी बढ़ाता है। नए कलाकारों को अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए शो की शुरुआत के दौरान मौका दिया जाता है। वायरल माइक अपने बहुत ही प्रोफेशनल संचालन और इवेंट की संरचना के लिए जाना जाता है।वायरल माइक के शो अपने आप में ही एक पूरे पैकेज की तरह होते हैं क्योंकि विभिन्न पृष्ठभूमि और शैली जैसे बीटबॉक्सिंग, शायरी-गायन-गिटार कॉम्बो,कंटेंपरेरी कविता और कई अलग-अलग टेस्ट से भरे शो का आयोजन किया जाता हैं। इस तरह के शो में जाना हर किसी के लिए जरूरी है क्योंकि शो के दौरान मनोरंजन के साथ कई दर्शकों को प्रेरित भी किया है ताकि वो दर्शक से कलाकार बनें और मंच पर जा कर अपनी छिपी हुई प्रतिभा को खोजें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The Wiral mic will give a new identity to your hidden talents The Wiral mic will give a new identity to your hidden talents The Wiral mic will give a new identity to your hidden talents […]

  • वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 में विश्व प्रसिद्ध सितारों का शानदार लाइनअप
    by Dainik Bhaskar,,327 on November 14, 2019 at 8:08 am

    वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 का देशवासियों को बेसब्री से इंतजार है। अपने प्रीमियम स्मार्टफोन, स्मार्टटीवी और दूसरी एसेसरीज से उपभोक्ताओं को अलग तरह का अनुभव देने वाला OnePlus अब अपने वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 के जरिए भी अलग अनुभव से 'नेवर बिफोर' को साकार करने जा रहा है। इस फेस्टिवल में OnePlus पहली बार कैटी पेरी, दुआ लिपा, अमित त्रिवेदी, रित्विज, एजवीसर्च और द लोकल ट्रेन जैसे म्यूजिकल सेंसेशन एक साथ मंच पर लाने जा रहा है।वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 में विश्व प्रसिद्ध कलाकारों का शानदार लाइनअप है, जो हजारों प्रशंसकों के बीच भारतीय मंच पर उतरेंगे। 16 नवंबर 2019 को मुंबई के डीवाई पाटिल स्टेडियम में होने वाला वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल ऐसा संगीत का महाउत्सव है जिसमें विश्व प्रसिद्ध कलाकारों के साथ शानदार तकनीक का संगम देखने को मिलेगा। संगीत प्रेमियों के लिए यह निश्चित रूप से ऐसा दिन है, जिसे वे कभी नहीं भूल पाएंगे। एक नजर वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 के कलाकारों पर —1. कैटी पेरी: अंतरराष्ट्रीय संगीत सनसनी और मेगास्टार कैटी पेरी को लाइव देखने का मौका भारतीय प्रशंसकों को मिलने जा रहा है। ग्रैमी से सम्मानित कैटी पेरी 12 नवंबर को भारत आ चुकी हैं। वे मुंबई में 16 नवंबर को होने वाले वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल में प्रस्तुति देंगी। कैटी पेरी ने 2008 में 'वन आॅफ द ब्वॉय्ज' के साथ संगीत की दुनिया में तहलका मचाया था। उनके 'रोअर', 'फायरवर्क' और 'डार्क हॉर्स' जैसे मशहूर गाने मुंबई में होने वाले वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल में भारतीय प्रशंसकों के कदमों को थिरकाकर स्टेडियम में जादू चलाने के लिए पर्याप्त हैं। इस यादगार इवेंट को आपको किसी भी हाल में मिस नहीं करना चाहिए।2. दुआ लिपा: कम उम्र की आकर्षक अंतरराष्ट्रीय गायिका दुआ लीपा की भी बड़ी फैन फॉलोइंग है। वह भी वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल में प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं। उनका पहला सिंगल 'न्यू लव' हिट था, जबकि दूसरे सिंगल 'बी द वन' ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय सनसनी बना दिया। उनका सिंगल 'ब्लो योर माइंड' भी हिट होकर सभी संगीत चार्टों में शीर्ष पर रहा और वे हाल के समय की सबसे पसंदीदा गायिकाओं में शुमार हो गईं। अपने सिंगल 'न्यू रूल्स' की रिलीज और लगातार सफलता के साथ, वह 2015 के बाद से ब्रिटेन में शीर्ष स्थान पर पहुंचने वाली पहली महिला एकल कलाकार बन गईं। तो जाहिर है, आप उनके गानों को लाइव सुनने के लिए बेताब जरूर होंगे!3. अमित त्रिवेदी: बॉलीवुड के पंसदीदा सितारे अमित त्रिवेदी ने अपने करियर में कई सफल गाने तैयार किए हैं। मशहूर संगीत निर्देशक, संगीतकार, गीतकार और गायक त्रिवेदी ने अपने संगीत कॅरियर की शुरुआत 2008 में की थी और तब से वह अपने उत्कृष्ट काम के लिए कई पुरस्कार हासिल कर चुके हैं। बॉलीवुड में उनके कुछ प्रसिद्ध गीत 'वेक अप सिड' से 'इकतारा', 'क्वीन' से 'लंदन ठुमकदा' और 'काई पो चे' से 'मांझा' हैं।4. रितविज़: पुणे के रीतविज़ हिंदुस्तानी म्यूज़िक में प्रयोगों के लिए पहचाने जाते हैं। उनका गाना 'उड़ गए' बहुत मशहूर रहा है। उनका नाम भारत में सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले इलेक्ट्रॉनिक संगीत निर्माताओं में शुमार है। उन्हें इलेक्ट्रॉनिक बीट्स के साथ हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत को सहजता से बजाने के लिए जाना जाता है। उन्हें लाइव प्रदर्शन करते हुए देखना जीवन भर का यादगार अनुभव हो सकता है।5. एजवीकीपसर्चिंग: यह ऐसा मशहूर म्यूजिकल बैंड है जो 2015 के बाद से संगीत चार्ट में शीर्ष पर है। उनके सकारात्मक संगीत के नए और तरोताज़ा दृष्टिकोण से वे अपने प्रशंसकों का चुटकियों में दिल जीत लेते हैं। इस बैंड को आधुनिक पोस्ट-रॉक बैंड के रूप में जाना जाता है और उन्होंने अपनी एक अलग ही पहचान कायम की है। उनके लोकप्रिय गीतों में शामिल हैं— 'द तत्वा', 'उन्स' और 'कलगा'।6. द लोकल ट्रेन: दिल्ली का लोकप्रिय रॉक बैंड 'द लोकल ट्रेन' हर युवा संगीत प्रेमी की प्लेलिस्ट में जरूर मिल जाएगा। उनके शानदार गीत और मीठी धुनें उर्दू और हिंदी दोनों भाषाओं को मिलाकर श्रोताओं को आनंदित करती हैं। वे युवा पीढ़ी को आसानी से जोड़ते हैं। उनके गीत 'आफताब', 'खुदी', 'आओ तुम कभी', 'छू लो' काफी लोकप्रिय हैं।इन सभी विश्व प्रसिद्ध कलाकारों को एक साथ लाइव देखने के लिए आप 16 नवंबर को मुंबई के डीवाई पाटिल स्टेडियम में आइए। वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 आपका इंतजार कर रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Katy Perry's first lineup in Mumbai for OnePlus Music Festival 2019 […]

  • OnePlus Music Festival का काउंटडाउन शुरू, 16 नवंबर को मुंबई में चलेगा जादू
    by Dainik Bhaskar,,327 on November 13, 2019 at 10:33 am

    OnePlus के बहुप्रतीक्षित म्यूजिक फेस्टिवल का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। वनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल में कैटी पेरी और दुआ लिपा जैसे अंतरराष्ट्रीय सितारों के साथ ही अमित त्रिवेदी, रितविज़, एजवीसर्च और द लोकल ट्रेन जैसे म्यूजिक प्रॉड्यूसर्स और बैंड अपनी प्रस्तुति देने वाले हैं। 16 नवंबर को डीवाई पाटिल स्टेडियम में होने वाले इस आयोजन के लिए कैटी पेरी भारत आ चुकी हैं और स्टेडियम में आवश्यक तकनीकी तैयारियां की जा रही हैं।अपने प्रशंसकों को अलग अनुभव देने के लिए OnePlus यह आयोजन कर रहा है। इस इवेंट में देशभर से प्रशंसक शामिल हो रहे हैं। इवेंट में प्रवेश एंट्री टिकट के जरिए दिया जाएगा। एंट्री टिकट की कीमत महज 3 हजार रुपए से शुरू है।कई श्रेणियों में हैं टिकटवनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल 2019 के टिकट कई श्रेणियों में उपलब्ध हैं। सुपरफैन, गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज श्रेणियों में आप टिकट खरीद सकते हैं। स्टेज के सबसे नजदीक सुपरफैन श्रेणी है। इसमें सुपर फैन पिट टिकट के साथ ही प्री—शो बैकस्टेज टूर भी करवाया जाएगा। इसके अलावा एक प्रीमियम ओपीएमएफ मर्चेंडाइज गिफ्ट और कुछ अन्य उपहार भी दिए जाएंगे।शटल सर्विसवनप्लस म्यूजिक फेस्टिवल में शामिल होने के लिए आपको मुंबई के विभिन्न स्थानों से शटल सर्विस भी मिलेगी। इसकी बुकिंग भी जल्द ही शुरू होगी। आप विभिन्न स्थानों से अपना पिकअप पॉइंट चुन सकते हैं और इत्मिनान से म्यूजिक फेस्टिवल में पहुंच सकते हैं।मिलेगा स्टेशबैकयदि आप OnePlus यूजर हैं तो आपको 50 प्रतिशत का स्टेशबैक दिया जाएगा। इसके लिए आपको रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के दौरान अपना IMEI नंबर शेयर करना होगा, जिसे आप कीपैड पर *#06# डायल कर देख सकते हैं। इसके अलावा अन्य ग्राहकों को 25 प्रतिशत स्टेशबैक दिया जाएगा। यह आॅफर सुपरफैन टिकट पर लागू नहीं है।यहां से खरीदे टिकटटिकट खरीदने और रजिस्ट्रेशन की जानकारी नीचे दिए गए लिंक पर मौजूद है —https://insider.in/oneplus-music-festival-nov16-2019/event Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today OnePlus Music Festival countdown begins, magic will run in Mumbai on November 16 […]

  • Waves 19  फ़ेस्ट में सिंगर अमित त्रिवेदी और डच डीजे, टोनी जूनियर जैसी हस्तियाँ लगाएँगी चार चाँद
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 30, 2019 at 12:31 pm

    1 नवंबर से 3 नवंबर तक BITS गोवा में होने वाली एक अद्भुत यात्रा का हिस्सा बनने के लिए तैयार हो जाइए । इस बार का Waves 19 शो सभी लोगों को वास्तव में नॉवल के अनुभव जैसा बेहतरीन अनुभव देगा। इस साल होने वाली इस शानदार लाइव नाइट्स के लिए तैयार हो जाइए जहां आपको विभिन्न प्रकार के आयोजन का अनुभव मिलेगा।जानिए क्या है खास इस Waves 19 फ़ेस्ट में1 नवंबरफेस्ट का एक रोमांचक नया एडिशन 1 नवंबर को अंडर 25 समिट है जो पैनल डिस्कशन के हिस्से के रूप में कुछ बहुत ही प्रेरणादायक स्पीकर्स को पेश करने के लिए तैयार है। इसके बाद एक कॉमेडी नाइट होगी जिसमें देश के दो सबसे अच्छे स्टैंड अप कॉमेडियन शामिल होंगे।इसके बाद, दर्शक सीरॉक फाइनल के साथ इंडी नाइट का मज़ा ले पाएंगे जहां द लोकल ट्रेन के रॉकर्स का शो समापन समारोह के रूप में दिखाया जाएगा। हर बार की तरह इस बार भी इस बैंड कापरफॉर्मेंस आपको थिरकने पर मजबूर कर देगा ।2नवंबरउसके बाद 2नवंबर को आप सभी बॉलीवुड के मशहूरसिंगरअमित त्रिवेदी और उनकी टीम कोदेखने के लिए तैयार रहें। उनकी परफॉर्मेंस आप सभी को एक नयी दुनिया में ले जाएगी जहां सभी दर्शक अपनी बिजीलाइफ की सभी चिंताओं को भूल कर एकरोमांटिक दुनिया में खो जाएंगें।लेकिन मज़ा यहाँ खत्म नहीं होता है, इस साल, EDM नाइट के लिए विश्व प्रसिद्ध डच डीजे, टोनी जूनियर शिरकतकरेंगें। इनका संगीत वहाँ पर मौजूद सभी दर्शकों की शाम को और भी खुश नुमा बना देगा। इसी के साथ इस बार का Waves 19 शो सभी केखास होने वाला है क्योंकि इस बार कुछ नए इवेंट्स इस शो की खूबसूरती और मज़ा दुगनाहोने वाला है।कुछ नए इवेंट्सइन नए प्रोग्राम्समें सबसे पहले,रैपबैटलप्रतियोगिता 'राप्सोडी' होगी जो पहली बार इस इवेंट में आयोजित की जा रही है। इस तरह की बैटल की मदद से आपके अंदर छुपेगली बॉय को बाहर निकालने का मौका मिलेगा।इसके साथ ही NEWS-ance, अपनी तरह की एक घटना है, जिससे आप एक पत्रकार की भाषा व जीवन शैली को बेहतर ढंग से समझ पाएँगें। इसकी मदद से आप एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक लोकप्रिय हस्ती के साथ एक साक्षात्कार नेविगेट करते हैं, जैसा कि आप दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करते हुए अपनी पत्रकारिता कौशल का प्रदर्शन करते हैं।अंत में, एक ह्यूमन लाइब्रेरी का गोवा अध्याय है, जो किसी अन्य के विपरीत एक पहल है। ह्यूमन बुक्स के साथ उठाओ और उन्हें समझो और उनके साथ जुड़ने के लिए उनके साथ संघर्ष की अपनी दास्तां बजाओ, उनके साथ बढ़ने का एक अनूठा अवसर। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Celebrities like Singer Amit Trivedi and Dutch DJ, Tony Jr. to set more beauty in Waves 19 Fest […]

  • आशिमा शर्मा और करण खियानी को मिला Miss Fabb और Mr Fabb राजस्थान 2019 का खिताब
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 19, 2019 at 5:28 pm

    28 सितंबर 2019 की शाम को हुआ Miss Fabb इंडिया का राजस्थान स्टेट फ़िनले- जयपुर के पिंक स्क्वायर मॉल में । इससे पहले Miss Fabb India, Mrs Fabb India, Mr Fabb India मुंबई , पुणे सूरत, अहमदाबाद , नागपुर , इंदौर जैसे कई बड़े शहरों में सफलतापूर्वक अपने इवेंट का आयोजन कर चुका है।2500 से भी ज्यादा ऑनलाइन एंट्रीज में से 400 प्रतिभागियों को चुना गया जिसके बाद इन आकांशी मॉडल्स का 15 सितंबर को ऑडिशन लिया गया। इन 400 प्रतिभागियों में से 40 प्रतियोगियों को राजस्थान के ग्रैंड फिनाले के लिए चुना गया। इस शहर के विजेताओं को दूसरे शहर के विजेताओं के साथ Fabb India, Mrs. Fabb India, aur Mr. Fabb India ख़िताबों के एक दूसरे को टक्कर देने का मौका मिलेगा। जाने माने कोरियोग्राफ़र वैशाली वर्मा और प्रियंका गोसवी ने इन 40 फाइनलिस्ट को कई इंटरेक्टिव वर्कशॉप्स के ज़रिए ग्रैंड फिनाले के लिए तैयार करवाया। इस वर्कशॉप में Q&A राउंड, रैम्प वॉक की ट्रेनिंग आदि कई प्रकार की ट्रेनिंग व टिप्स भी दिये गए।इससे पहले 3 फरवरी को होने वाले पिंक स्क्वायर मॉल जयपुर के इवेंट में Miss Fabb, Mrs. Fabb aur Mr. Fabb के आखिरी पड़ाव को अंजाम दिया था। इसमें इन 40 फाइनलिस्ट में से 3 लोगों को आगे के लिए चुना गया। इस शो के दौरान जाने माने ब्रांड FBB ने अपना फेस्टिव कलेक्शन भी प्रस्तुत किया। जो इस इवेंट के फैशन पार्टनर भी है। वहीं इस इवेंट के लिए हेयर एंड मेकअप के पार्टनर Orane स्कूल ऑफ वेलनेस & ब्यूटी थे। इन सभी पार्टनर्स ने मिलकर इस इवेंट को सफलतापूर्वक पूरा किया।इवेंट के अंत में जब फैसले की घड़ी आयी तो मिस आशिमा शर्मा को Miss Fabb Rajasthan का खिताब दिया गया वहीं मिसिज पायल अग्रवाल को Mrs Fabb Rajasthan और मिस7 करण खियानी कोMr. Fabb Rajasthan के खिताब से नवाजा गया। वहीं Miss Fabb राजस्थान के फर्स्ट और सेकेण्ड रनर अप के रूप में जाह्नवी शर्मा और कोमल शर्मा को चुना गया।Mrs Fabb राजस्थान के फर्स्ट और सेकेण्ड रनर अप के रूप में आकृति अग्रवाल और मिनाक्षी राव को चुना गया।Mr Fabb राजस्थान के फर्स्ट और सेकेण्ड रनर अप के रूप में रोहित तिवारी और रौनक जैन/ मोनीष रामदेव को चुना गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ashima Sharma and Karan Khiani get Miss Fabb and Mr Fabb Rajasthan 2019 titles Ashima Sharma and Karan Khiani get Miss Fabb and Mr Fabb Rajasthan 2019 titles […]

  • IIT रूड़की में आयोजित होगा वार्षिकोत्सव 'थोमसो-2019 का भव्य समारोह
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 7, 2019 at 6:50 am

    थॉम्सो, कला, संस्कृति, उत्साह और ऊर्जा के अतिप्रवाह के साथ अभिव्यक्ति का एक बहुप्रतीक्षित पैकेज, IIT रुड़की की सांस्कृतिक गहराई पर प्रकाश डालता है और विरासत में गर्व को भी प्रज्वलित करता है। यह उन छात्रों के बीच सांस्कृतिक कायाकल्प के लिए परिभाषित जलवायु का पोषण करता है जो अपनी प्रारंभिक वर्षों की रचनात्मकता में हैं। दिलचस्प है, यह गुणवत्ता के मामले में 1982 में अपनी स्थापना के बाद से लगातार विकसित हो रहा है।थॉम्सो के 38 वें संस्करण के लिए थीम eam ए ग्लिमिंग गाला ’है जो इस तरह से घूमती है कि प्रकाश का खेल जो हमें एक साथ पीढ़ियों के लिए चकित कर देता है। थॉम्सो 2019 जैसा कि पहले कभी नहीं था, अपनी खुद की मंत्रमुग्ध और उत्साहपूर्ण आभा को पालने वाला है। राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मानकों के पेशेवरों द्वारा पावर-पैक शो की उपस्थिति में कलात्मकता की एक भीड़ जो आपके भीतर आकर्षण को उजागर कर सकती है और प्रकाश की तरंगों को आपके निवास में ले जाने देती है।थॉम्सो पूर्व में कई मशहूर हस्तियों जैसे कि फरहान अख्तर, सोनू निगम, सुनिधि चौहान, कैलाश खेर, केके, सुष्मिता सेन, शान, हिंद महासागर, द लोकल ट्रेन, निखिल डी 'सूजा, और डीजे मर्निकानी जैसे अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों की शोभा बढ़ा चुके हैं। डीजे न्यूक्लिया, डीजे वोल्फपैक, और कई और। थॉम्सो ने डांस से लिटरेचर, म्यूजिक टू टेक्नोलॉजी, फैशन से लेकर फाइनेंस, फाइन आर्ट्स से लेकर साइबर गेमिंग, सिनेमा से लेकर शोबिज तक और क्या नहीं, पर सूर्य के नीचे हर विषय को कवर करते हुए 3 दिनों के अंतराल में 150 से अधिक कार्यक्रम आयोजित किए। इस तीन दिवसीय सांस्कृतिक असाधारणता की राजसी भव्यता रचनात्मक लोगों और प्रतिभाशाली कर्मियों के लिए अनंत संभावनाओं से भरे एक स्पेक्ट्रम को खोलती है। इन सभी प्रतियोगिताओं के विजेताओं को रु। के पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं। 30 लाख! विभिन्न विधाओं के अंतर्गत प्रमुख केंद्र चरण की घटनाएं हैं-कैम्पस दिवा, वोग, श्री और सुश्री थॉम्सो: फैशन फ्रीक्स के लिए प्रतियोगिताएं।फुटलोज़, स्टेप अप: डांस प्रतियोगिताएं आपको मंत्रमुग्ध करने के लिए।बैंड की लड़ाई, सरगम: साक्षी के लिए संगीतमय प्रदर्शन।लिटरेटी, स्पिन ए यार्न, ओपन माइक, स्लैम पोएट्री: साहित्यिक कट्टरपंथियों के लिए घटनाक्रम।पेंट फिएस्टा, आर्ट टॉकीज, कॉस्ट्यूम डिजाइन: मार्केटिंग और वित्त के बारे में घटनाक्रम।फेस्ट के पूरे तीन दिनों तक थॉम्सो कार्निवल का बोलबाला रहा। पेंटबॉल टू बॉडी ज़ॉर्बिंग, ह्यूमन फ़ॉस्बॉल से डॉजबॉल, मैजिक शो टू बुलेवार्ड गेम्स, कार्निवल में यह सब होता है। इस फेस्ट में विदेशी जोड़ साइलेंट डीजे और नाइटलाइफ़ कैफे, थॉम्सो नाइट्स के शोस्टॉपर्स हैं, जो निश्चित रूप से सभी को बहुत सारी यादों के साथ छोड़ देते हैं।भारत के हर सुदूर कोने में अपने पंखों का विस्तार करते हुए, 2019 में, थॉम्सो ने बेंगलुरु, कोलकाता, चंडीगढ़ जयपुर, दिल्ली और लखनऊ में अपनी प्रतिभा का शिकार किया। आंचलिक आयोजनों में भारी भागीदारी ने हमें उत्सव के अगले संस्करण में और अधिक शहरों को शामिल करने के लिए प्रोत्साहित किया है।अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The annual event 'Thomso-2019 grand event organized in IIT Roorkee The annual event 'Thomso-2019 grand event organized in IIT Roorkee The annual event 'Thomso-2019 grand event organized in IIT Roorkee The annual event 'Thomso-2019 grand event organized in IIT Roork […]

  • IIT दिल्ली के फेस्ट RENDEZVOUS की ने मचाई धूम
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 4, 2019 at 8:01 am

    2-5 अक्टूबर चलने वाला ये कार्यक्रम दिल्ली का सबसे भव्य आयोजन होगा।4 दिन के चलने वाले इस इवेंट में के लगभग 80,000 से भी ज्यादा लोग शिरकत करेंगें जहां 200 से इवेंट का आयोजन किया जाएगा जहां इंडिया के 650 से ज्यादा कॉलेज भाग लेंगें। देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी कई प्रसिद्ध कलाकार जैसे दिलजीत दोसांझ, अरिजित सिंह, सलीम सुलाइमन, ज़ाकिर खान, हार्डी संधु, विशाल - शेखर, केके, ड्रॉपिंग पूल, हूबसटंक, फरहान अख्तर इस शो के मुख्य आकर्षण रह चुके हैं।इसी विरासत को जारी रखने के लिए, Rendezvous आपके लिए एक रहस्यमयी ओडिसी लेकर आया है। असाधारण अनुभव, असीमित आनंद और एक अलग आयाम की यात्रा की आप उम्मीद कर सकते हैं।हवा में प्रवाहित ऊर्जा के साथ चार्ज होने वाली इसी पंक्ति में, हमारे पास 4 अक्टूबर को कैलीडोस्कोप है, जिसमे हमारे गली बॉय नाइज़ी, एक हिप हॉप नाम जो अब हर रैप प्रेमी की प्लेलिस्ट में है, उनसे सुसज्जित होगी। उनकी प्रसिद्धि के पीछे उनके संघर्ष की कहानी सब ही के लिए प्रेरणादायी हैं जो उनकी अनूठी शैली में देखा जा सकता है। दिन को यादगार बनाने के लिए, हमारे दिन को यादगार बनाने हेतु कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रसिद्धकवी डॉ कुमार विश्वास प्रस्तुति देंगे , जो अपनी लयबद्ध प्रस्तुतियों के लिए काव्य-विश्व में सबसे अधिक सनसनीखेज युवा आइकन हैं; डॉ। लोकप्रिय मेरठी, जिन्हें हाल ही में काका हाथरसी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, जो कि विभिन्न सामाजिक-राजनीतिक मुद्दों पर अपनी तंत्रिका गुदगुदी के लिए अभी तक मजबूत रुख के लिए जाने जाते हैं, और श्री अज़म शकीरी ने अपनी अनूठी कविता शैली के साथ, जो हर उस भावना को व्यक्त करते हैं, जो मानवीय अनुभवों का अनुभव करते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Fest RENDEZVOUS of IIT Delhi created a boom Fest RENDEZVOUS of IIT Delhi created a boom […]

  • वायरल माइक के 50 वें ओपन माइक शो में दिखा दर्शकों का बड़ा हुजूम
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 4, 2019 at 7:57 am

    50 या आधी शताब्दी, यह संख्या अपने आप में एक मील का पत्थर है। वायरल माइक ने अपने 50 वें ओपन माइक शो के साथ इस मील के पत्थर को छुआ। इस कार्यक्रम की घोषणा होते ही इस ओपन माइक शो के लिए वाइब सेट किया गया। आयोजकों ने कलाकारों और दर्शकों के लिए एक यादगार घटना के रूप में इस मील के पत्थर को चिह्नित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। कलाकारों और दर्शकों द्वारा विशाल पंजीकरण समारोह में सभी कुर्सियों को भर दिया गया। एक अद्भुत लाइन-अप कॉमेडियन, कहानीकार, गायक और कवि थे।यह ओपन माइक एक गोल्डन जुबली मील का पत्थर होने के कारण विभिन्न शैलियों के लिए प्रदर्शन करता था।कविता लिखने वाले राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने कहा कि "लेलों मेरे सारे खिलौने और गुल्लक, मेरे लिए मेरे पापा की गोद ही काफी है।" उनकी कविता से एक पंक्ति है जो एक पिता के संघर्षों और प्रयासों की सराहना करती है। आयोजन टीम के मुख्य सदस्य श्री नरेश ने अपने जीवन के अनुभवों को हास्यपूर्ण तरीके से संबंधित किया।द वायरल माइक टीम के एक मुख्य सदस्य, सुधीर, जो शो के लिए एक कॉमेडियन और मुख्य होस्ट भी हैं, ने मेहमानों का स्वागत करते हुए, उनके साथ बातचीत करके और उनके 15 मिनट के स्टैंडअप कॉमेडी सेट से बॉल रोलिंग शुरू की। उन्होंने कहा, "यह बहुत चालाक है कि बिक्री बढ़ाने के लिए फैशन पत्रिका का विपणन कैसे किया जाता है, एक महीने वे प्रकाशित होने वाले अगले महीने मरने के लिए लगभग 15 डेसर्ट प्रकाशित करते हैं, ये 10 अभ्यास आपको वसा खोने में कैसे मदद करेंगे"।दर्शकों ने बहुत उत्साह और उत्साहपूर्वक प्रत्येक कलाकार का समर्थन किया।दर्शकों में से एक, अंकिता गुप्ता कलाकारों और उनके प्रदर्शन से इतनी अधिक प्रेरित थीं कि उन्होंने खुद को एक प्रदर्शन करने वाले कलाकार के रूप में पंजीकृत करने का साहस जुटाया और शो के अंत में सुंदर कविता दी। उन्होंने द वायरल माइक और उनके आयोजकों को इस तरह का माहौल प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया, जो कलाकार को कला से बाहर लाता है।सोनिका, जो आखिरी ओपन माइक शो की विजेता थीं, 50 वें शो के लिए चुनिंदा कलाकार थे। विशाल शर्मा एक ऐसे कॉमेडियन हैं जो अपनी शुरुआत से ही वायरल माइक के साथ जुड़े रहे हैं, उन्होंने दर्शकों को कॉमेडी के अपने अंदाज से अलग कर दिया।50 वें ओपन माइक इवेंट के दिन का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन उमा भाटी था, उन्होंने एक स्लैम पोएट्री प्रदर्शन दिया, जहां उनकी कविताओं ने उन आशंकाओं को उजागर किया, जिनके साथ वे रहते हैं और उन बुरे अनुभवों से गुजरते हैं, जिनसे वे गुजरती हैं। फिर भी महिला कलाकारों की 50% से अधिक भागीदारी थी। दर्शकों के सदस्यों ने आनंद प्रदर्शित किया और महिला लिंग भागीदारी देखकर सुखद आश्चर्य हुआ और उसी के लिए खुलकर अपनी राय दी। शो ऑनलाइन वोटिंग सिस्टम के साथ समाप्त हुआ जो बिना किसी कदाचार और निष्पक्ष परिणाम सुनिश्चित करता है। 50 वें शो का अंत केवल दूसरे मील के पत्थर के लिए एक शुरुआत है,जो कई नए कलाकारों के लिए एक मंच प्रदान करना और इनोवेटर्स, नए रास्ते को खोलने की कुंजी है।अगर आप भी वायरल माइक के इवेंट में पार्टिसिपेट करना चाहते हैं तो आने वाले इवेंट का हिस्सा बनने के लिए क्लिक करेंवायरल माइक के फेसबुक और इन्स्टाग्राम पर जा कर आप इससे जुड़े सभी टैलेंट को देख सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Huge audience came to enjoy 50th Open Mic Show of Wiral Mic Huge audience came to enjoy 50th Open Mic Show of Wiral Mic Huge audience came to enjoy 50th Open Mic Show of Wiral Mic Huge audience came to enjoy 50th Open Mic Show of Wiral Mic […]

  • RENDEZVOUS '19 आई. आई. टी. दिल्ली ला रहा है भारत का सबसे बड़ा सांस्कृतिक त्योहार
    by Dainik Bhaskar,,327 on October 1, 2019 at 12:49 pm

    RENDEZVOUS आई. आई. टी. दिल्ली द्वारा एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है जो 2 से 5 को मनाया जाएगा । 4 दिन के चलने वाले इस इवेंट में इंडिया के 650 से ज्यादा कॉलेज के लगभग 80,000 से भी ज्यादा लोग शिरकत करेंगें। इन 4 दिनों में यहाँ 200 से इवेंट का आयोजन किया जाएगा। देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी कई प्रसिद्ध कलाकार जैसे दिलजीत दोसांझ, अरिजित सिंह, सलीम सुलाइमन, ज़ाकिर खान, हार्डी संधु, विशाल - शेखर, केके, ड्रॉपिंग पूल, हूबसटंक, फरहान अख्तर इस शो के मुख्य आकर्षण रह चुके हैं।इसी विरासत को जारी रखने के लिए Rendezvous'19 आपके लिए एक असाधारण अनुभव और असीमित आनंद भरी एक जर्नी लाया है। 2-अक्टूबर को अप्रत्याशित आनंद के लिए , मेलांगे को रिलीज़ करते हुए, शंकर महादेवन, एहसान नूरानी और लोय मेंडोंसा (शंकर एहसान लॉय) की प्रतिष्ठित तिकड़ी मंच पर होगी। हवा में प्रवाहित ऊर्जा के साथ चार्ज होने वाली सबसे बड़ी संगीतमय रातों में से एक के लिए तैयार करें क्योंकि हजारों लोगों के दिल 2 अक्टूबर, 2019 को दोस्ती, प्यार और आशा के साथ धड़क उठेंगे।इसी पंक्ति में, हमारे पास 4 अक्टूबर को कैलीडोस्कोप है, जिसमे हमारे गली बॉय नाइज़ी, एक हिप हॉप नाम जो अब हर रैप प्रेमी की प्लेलिस्ट में है, उनसे सुसज्जित होगी। उनकी प्रसिद्धि के पीछेउनके संघर्ष की कहानी सब ही के लिए प्रेरणादायी हैं जो उनकी अनूठी शैली में देखा जा सकता है। दिन को यादगार बनाने के लिए, कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रसिद्ध कवि डॉ कुमार विश्वास प्रस्तुति देंगे , जो अपनी लयबद्ध प्रस्तुतियों के लिए काव्य-विश्व में सबसे अधिक सनसनीखेज युवा आइकन हैं; डॉ. लोकप्रिय मेरठी, जिन्हें हाल ही में काका हाथरसी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, जो कि विभिन्न सामाजिक-राजनीतिक मुद्दों पर अपने मजबूत रुख के लिए जाने जाते हैं, और श्री अज़म शकीरी ने अपनी अनूठी कविता शैली के साथ, जो हर उस भावना को व्यक्त करते हैं, जो मानवीय अनुभवों का अनुभव करते हैं।यह हमें इस खूबसूरत पर्व के अंत में ले जाता है। धूम के लिए 2 अक्टूबर को हमारे पास अमित त्रिवेदी हैं जो इस आयोजन के अंजाम को और भी भव्यता के साथ समापन करेंगे। बॉलीवुड इंडस्ट्री के सबसे बेहतरीन म्यूजिक कंपोजर्स में से एक, हिट-मशीन, उनके नाम को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। तो आप मस्ती के नशे में खोने के लिए तैयार हो जाइए और संगीत की एक अविस्मरणीय रात के रूप में उसकी धुनों में डूब जाइए।एक अविस्मरणीय शाम आप सभी का इंतज़ार कर रही है |इस इवेंट का हिस्सा बनने के लिए क्लिक करें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today RENDEZVOUS '19 IIT Delhi bringing India's largest cultural festiva […]

  • The Wiral Mic करने जा रहा है अपने 49 वें ओपन माइक शो का आयोजन
    by Dainik Bhaskar,,327 on September 21, 2019 at 10:45 am

    हर बार की तरह इस बार The Wiral Mic फिर से 22 सितंबर 2019 को अपने 49 वें ओपन माइक शो का आयोजन करने जा रहा है । इस इवेंट का आयोजन शाम 4:00 बजे से 07:00 बजे तक Coho Apartments Siris Road-2, नियर नीलकांत हॉस्पिटल, गुड़गांव के पास किया जाएगा।इस होने वाले आयोजन में सभी लोग कलाकार के रूप में या एक दर्शक के रूप में भाग ले सकते हैं। ये शो पूर्णत युवाओं के टेलेंट पर आधारित है जिस वजह से यहाँ पर उपस्थित रहने वाले लोगों को कला का नया अनुभव प्राप्त होता है इसके साथ ही दर्शकों को कुछ नया सीखने को भी मिलता है।आजकल के इस आधुनिक दौर में सभी लोगों के अंदर कोई न कोई प्रतिभा छुपी रहती है लेकिन अभी भी कई लोग ऐसे हैं जो अपने अंदर छुपे हुनर को पहचान नहीं पाते। कई बार टेलेंट होते हुए भी सही प्लेटफॉर्म न मिलने की वजह से लोगों की प्रतिभा को पहचान नहीं मिल पाती। ऐसे में वायरल माइक नई आने वाली प्रतिभाओं के लिए बहुत सहायक वातावरण प्रदान करता है ताकि प्रतिभाओं को सही मंच के माध्यम से पहचान मिल पाए। इसके अलावा वायरल माइक में हर प्रकार की प्रतिभाओं को प्रदर्शित करने का मौका मिलता है, इस मंच के माध्यम से लोग गायन, कॉमेडी, कविता जैसे कई हुनर का प्रदर्शन करते हैं। इस बार 22 सितंबर को होने वाले इस शो में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले व्यक्ति को पुरस्कार भी दिया जाएगा। सबसे अच्छा प्रदर्शन का चयन एक ऑनलाइन वोटिंग सिस्टम के माध्यम से किया जाएगा। ये वोटिंग की पूरी प्रक्रिया पूरी तरह से निष्पक्ष होगी।अब तक जो लोग The Wiral Mic शो में भाग लेते रहते हैं उनका ये मानना है कि रविवार की छुट्टी में फिल्म के लिए जाने से कई बेहतर इस शो में जाना है। क्योंकि, यहाँ से घर वापस लौटते समय लोगो के पास कई सारे सबक सीखने के साथ-साथ ज्ञान, मनोरंजन भी भरपूर मिलता है।' ऐसे प्लेटफार्मों के माध्यम से लोगों के अंदर रचनात्मक ऊर्जा को बढ़ाता है और बाकी लोगों तक अपने टेलेंट को साझा करने में मदद भी करता है। खासतौर पर पहली बार हिस्सा लेने वाले लोगों को यहाँ आकार अन्य लोगों से प्रेरणा मिलती है। मेरा ये मानना है की ये प्लेटफॉर्म वास्तव में विचारशील है जो कई लोगों को उनके कौशल को निखारनें में मदद करता है। इसके साथ ही यहाँ आ कर युवाओं में आत्मविश्वास बढ़ता है जिसके माध्यम से वो सार्वजनिक प्रदर्शन कौशल व कई विषयों पर अपना सुझाव देने के योग्य हो जाते हैं। ' शिप्रा रुस्तगी।'The Wiral Mic एक सुंदर अनुभव है जहां हंसमुख दर्शक और बहुत ही हंसमुख मेजबान आते हैं ' ख्याति पुंजानी।The Wiral Mic दर्शकों की प्रतिक्रिया ले कर अपने शो की गुणवत्ता में हर बार सुधार करता रहता है।अगर आप भी इस तरह के अनुभव को जीना चाहते है तो आप इस शो में दर्शक या कलाकार के रूप में रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The Wiral Mic is going to organize its 49th Open Mic Show The Wiral Mic is going to organize its 49th Open Mic Show The Wiral Mic is going to organize its 49th Open Mic Show […]

  • छत्तीसगढ़ के रायपुर में होने जा रहा Miss Fabb का भव्य ग्रैंड फ़िनाले
    by Dainik Bhaskar,,327 on September 20, 2019 at 11:15 am

    रायपुर, छत्तीसगढ़ एक बार फिर से टेलेंट और सौंदर्य की झलक पाने जा रहा है।भारत का सबसे प्रतिष्ठित ब्यूटी पेजेंटMiss Fabb का ऑडिशन रायपुर, छत्तीसगढ़ के मशहूर रिलायंस ट्रेंड स्टोर में आयोजित हुआ।इससे पहले Miss Fabb मुंबई, पुणे, सूरत, अहमदाबाद, नागपुर, इंदौर जैसे कई शहरों में धूम मचा चुका है और अब ये अपना शो अपना जलवादिखाने रायपुर आ पहुंचा हुआहै।Miss Fabb शुरुआत से ही अपने निष्पक्ष निर्णय के लिए जाना जाता है। इस बार होने वालेऑडिशन और सलेक्शन की श्रेणियां थी-Miss Fabb , Mrs Fabb और Mr Fabb।रायपुर में इस इवेंट का ऑडिशन 8 सितंबर को हुआ जहां 400 से भी ज़्यादा मॉडल आँखों में सपने, और दिल में जुनून लिए रिलायंस ट्रेंड स्टोर, अंबुजामॉल पहुंचे थे। हजारों ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में से 400 भाग्यशाली प्रतिभागियों को Miss Fabb के लिए चुना गया था। ऑडिशन के बाद हर श्रेणी के प्रतियोगियों कोमिला कर 40 फाइनलिस्ट रायपुर के लिए चुने गए हैं। इस इवेंट की सबसे खास बात ये है कि रायपुर के ग्रेंड फिनाले में विजेताओं कोMiss Fabb इंडिया,Mrs Fabb इंडिया औरMr Fabb इंडिया के नेशनल प्रतियोगिता में डायरेक्टर एंट्री यानी बिना किसी ऑडिशन के ही सलेक्शन हो जाएगा।22 सितंबर 2019 कोहोने वाले इस ग्रैंडफिनाले के लिएइन 40 फाइनलिस्ट को जाने माने फैशन कोरियोग्राफर वैशाली वर्मा ने ट्रेन किया है।इससे जुड़े सभी कार्यक्रम की योजना Qnox एडवरटाइजिंग द्वारा की गयी है।सभी प्रतिभागियों के लिए इंटरेक्टिव सेशंस का भी आयोजन किया गया जहां उन्हेंQ&A राउंड, रैम्प वॉक, शारीरिक संतुलन और बर्ताव के लिए फाइनलिस्ट को तैयार किया गया। सभी प्रतिभागियों द्वाराइससेशन की बहुत तारीफ की गयी क्योंकि इन सब कार्यक्रमों के माध्यम से सभी फाइनलिस्ट को बहुत कुछ सीखने को मिला जो आगे चलकर उनके काम आयेगा। इसके साथ हीफिनाले के आने तक, Qnox द्वारा ऐसे कई सेशंसका आयोजन किया जाएगा ।सभी फाइनलिस्ट के लिए जाने माने ब्यूटी ब्रांड VLCC द्वारा वैलनेस सेशन का भी आयोजन की गया। जिसमें प्रतियोगियों को एक हेल्थी स्वास्थ रूटीन की सलाह दी गयी। इसके अलावा इस सेशन में प्रतियोगियों को डेली रूटीनके ब्यूटी टिप्स भी मिले। वहीं फिनाले मेंमेकअप पार्टनर VLCC द्वारासभी प्रतिभागियों कोहेयर और मेकअप की सुविधा दी जाएगी ।फिनाले के लिए कपड़े और स्टाइलिंग पार्टनर जाने माने रीटेल चैन रिलांयस ट्रेंड्सरहेंगे।ये शानदार फिनाले 22 सितंबर 2019 को अंबुजामॉल, रायपुरमें किया जाएगा तोआप सभी हो जाइए तैयार इस बड़े इवेंट का हिस्सा बनने को। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Miss Fab grand grand finale to be held in Raipur, Chhattisgarh Miss Fab grand grand finale to be held in Raipur, Chhattisgarh Miss Fab grand grand finale to be held in Raipur, Chhattisgarh Miss Fab grand grand finale to be held in Raipur, Chhattisgar […]

  • वायरल माइक के माध्यम से वायरल हो रहे हैं नए और युवा कलाकार
    by Dainik Bhaskar,,327 on September 17, 2019 at 11:44 am

    द वायरल माइक द्वारागुरुग्राम में 15 सितंबर 2019 को 48 वां ओपन माइक शो का आयोजन किया गया जो वहाँ पर उपस्थित कलाकारोंव दर्शकों दोनों के लिए एक अद्भुत अनुभव था। इस टेलेंट शो में 25 से अधिक लोगों ने भाग लिया जिसके बाद यहाँ पर लोगों ने अपने अपने टेलेंट की प्रस्तुति दी। इस शो में 5 स्टैंड-अप कॉमेडी, 4 कविता प्रदर्शन और 1 संगीत जैसी कई मनोरंजक परफॉर्मर्स भी शामिल थी।हर बार की तरह द वायरल माइक ने इस बार फिर से व्यावसायिकता और संचालन के संगठित ढांचे को प्रदर्शित किया।ये प्लेटफॉर्म अपने निष्पक्ष आयोजन व रवैये के लिए जाना जाता है तभी तो इस बार होने वाली कुल 10 प्रदर्शनों में 5 महिला प्रतिभागी थीं।इस शानदार शो केमुख्य होस्टसुधीर थे जिन्होंने इस शो की शुरुआत अपनीजबरदस्तकॉमेडी से की। उनकी कॉमेडी की खास बात उनके सभी चुटकुलों का वर्तमान स्थितिऔर ट्रेंड्सकी तर्ज़ पर होना था ।अपनी लाजवाब कॉमेडी के बाद सुधीर ने वहाँ पर उपस्थित दर्शकों को TWM के बारे में बताया कि किस तरह ये मंच नए और उभरते कलाकारों को एक बेहतर प्लेटफॉर्म देता है जिस वजह से नए टेलेंट्स को अपना हुनर दिखाने का मौका भी मिलता है।शो में आए सभी दर्शकों ने पहली बार पार्टिसिपेट करने वालें युवाओं के प्रति अपना इंटरेक्टिव व्यवहार और समर्थन किया। अपनी कला का प्रदर्शन करने वाले सभी कलाकारों ने हर विषय को छुआ और अपनी राय भी व्यक्त की। वहाँ आए कलाकारों में से एक कविता की कलाकार प्रियंका अग्रवाल ने कहा, "सब कोई अपने प्यार के बारे में लिखते हैं लेकिन आखिरी प्यार के बारे में कोई नहीं लिखता क्योंकि हम कम्फर्ट ज़ोन में आ जाते हैं"।शो के समापन के साथ उस दिन के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का खिताब स्टैंड अप कॉमेडियन सोनिका चौधरी को मिला। सोनिका ने अपने टेलेंट प्रदर्शन के जरिये पानी की बर्बादी पर व्यंग्य कॉमेडी के अंदाज़ में किया जिसे दर्शकों द्वारा खूब सराहा गया। पानी की बर्बादी पर व्यंग्य करते हुये सोनिका ने भोजन बनाने के निर्देश से लेकर बाथटब में स्नान करने की विधि को मस्ती भरे अंदाज़ में बताया और उन्होंने कहा"बाथ टबमें जगह बना ले स्वाद अनुसार" इसके बाद लोगों की तालियों कि गड़गड़ाहट ने पूरा समा बांध दिया।पहली बार इस शो में आए कलाकार ध्रुव ठाकुर ने कहा “मैंने आखिरकार वायरल माइक पर अपनी पहली स्टैंड-अप कॉमेडी की। मैं बहुत घबरा गया था लेकिन मुझे लगा कि पर्यावरण बहुत सहायक था, अनुभव अद्भुत था। ”शो के बाद एक नेटवर्किंग सत्र का भी आयोजन किया गया था जहां कलाकारों के बीच विचारों के आदान-प्रदान की सुविधा थी जिसके यहाँ मौजूद कलाकारों को काफी प्रोत्साहन भी मिला। इसके साथ ही नए व पहले से मौजूद सभी कलाकारों को इस प्लेटफॉर्म के आयोजकों के साथ बातचीत करने का मौका भी मिला। जिसकी बदौलत उन्होंनें इस प्लेटफॉर्म से जुड़े अपने सभी संदेह और सवालों हल पाया।द वायरल माइक हमेशामें उपस्थित दर्शकों में से एक दर्शक को सर्वश्रेष्ठ ऑडियंस का पुरस्कार भी मिला। वायरल माइक पर ओपन माइक अत्यधिक अनुशंसित है, यह एक ऐसी जगह है जहाँ लोग न केवल अपनी कला में अपना हाथ आजमाते हैं बल्कि शो की मदद से एक दूसरे से सीखते भी हैं।अगर आप भीवायरल माइक के इवेंट में पार्टिसिपेट करना चाहते हैं तो आने वाले इवेंट काहिस्सा बनने के लिए क्लिक करेंवायरल माइक केफेसबुकऔरइन्स्टाग्रामपर जा कर आप इससे जुड़े सभी टैलेंट को देख सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today New and young artists are going viral through Wiral mic New and young artists are going viral through Wiral mic New and young artists are going viral through Wiral mic […]

  • वायरल माइक के माध्यम से वायरल हो रहे हैं नए और युवा कलाकार
    by Dainik Bhaskar,,327 on September 17, 2019 at 11:42 am

    द वायरल माइक द्वारागुरुग्राम में 15 सितंबर 2019 को 48 वां ओपन माइक शो का आयोजन किया गया जो वहाँ पर उपस्थित कलाकारोंव दर्शकों दोनों के लिए एक अद्भुत अनुभव था। इस टेलेंट शो में 25 से अधिक लोगों ने भाग लिया जिसके बाद यहाँ पर लोगों ने अपने अपने टेलेंट की प्रस्तुति दी। इस शो में 5 स्टैंड-अप कॉमेडी, 4 कविता प्रदर्शन और 1 संगीत जैसी कई मनोरंजक परफॉर्मर्स भी शामिल थी।हर बार की तरह द वायरल माइक ने इस बार फिर से व्यावसायिकता और संचालन के संगठित ढांचे को प्रदर्शित किया।ये प्लेटफॉर्म अपने निष्पक्ष आयोजन व रवैये के लिए जाना जाता है तभी तो इस बार होने वाली कुल 10 प्रदर्शनों में 5 महिला प्रतिभागी थीं।इस शानदार शो केमुख्य होस्टसुधीर थे जिन्होंने इस शो की शुरुआत अपनीजबरदस्तकॉमेडी से की। उनकी कॉमेडी की खास बात उनके सभी चुटकुलों का वर्तमान स्थितिऔर ट्रेंड्सकी तर्ज़ पर होना था ।अपनी लाजवाब कॉमेडी के बाद सुधीर ने वहाँ पर उपस्थित दर्शकों को TWM के बारे में बताया कि किस तरह ये मंच नए और उभरते कलाकारों को एक बेहतर प्लेटफॉर्म देता है जिस वजह से नए टेलेंट्स को अपना हुनर दिखाने का मौका भी मिलता है।शो में आए सभी दर्शकों ने पहली बार पार्टिसिपेट करने वालें युवाओं के प्रति अपना इंटरेक्टिव व्यवहार और समर्थन किया। अपनी कला का प्रदर्शन करने वाले सभी कलाकारों ने हर विषय को छुआ और अपनी राय भी व्यक्त की। वहाँ आए कलाकारों में से एक कविता की कलाकार प्रियंका अग्रवाल ने कहा, "सब कोई अपने प्यार के बारे में लिखते हैं लेकिन आखिरी प्यार के बारे में कोई नहीं लिखता क्योंकि हम कम्फर्ट ज़ोन में आ जाते हैं"।शो के समापन के साथ उस दिन के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का खिताब स्टैंड अप कॉमेडियन सोनिका चौधरी को मिला। सोनिका ने अपने टेलेंट प्रदर्शन के जरिये पानी की बर्बादी पर व्यंग्य कॉमेडी के अंदाज़ में किया जिसे दर्शकों द्वारा खूब सराहा गया। पानी की बर्बादी पर व्यंग्य करते हुये सोनिका ने भोजन बनाने के निर्देश से लेकर बाथटब में स्नान करने की विधि को मस्ती भरे अंदाज़ में बताया और उन्होंने कहा"बाथ टबमें जगह बना ले स्वाद अनुसार" इसके बाद लोगों की तालियों कि गड़गड़ाहट ने पूरा समा बांध दिया।पहली बार इस शो में आए कलाकार ध्रुव ठाकुर ने कहा “मैंने आखिरकार वायरल माइक पर अपनी पहली स्टैंड-अप कॉमेडी की। मैं बहुत घबरा गया था लेकिन मुझे लगा कि पर्यावरण बहुत सहायक था, अनुभव अद्भुत था। ”शो के बाद एक नेटवर्किंग सत्र का भी आयोजन किया गया था जहां कलाकारों के बीच विचारों के आदान-प्रदान की सुविधा थी जिसके यहाँ मौजूद कलाकारों को काफी प्रोत्साहन भी मिला। इसके साथ ही नए व पहले से मौजूद सभी कलाकारों को इस प्लेटफॉर्म के आयोजकों के साथ बातचीत करने का मौका भी मिला। जिसकी बदौलत उन्होंनें इस प्लेटफॉर्म से जुड़े अपने सभी संदेह और सवालों हल पाया।द वायरल माइक हमेशामें उपस्थित दर्शकों में से एक दर्शक को सर्वश्रेष्ठ ऑडियंस का पुरस्कार भी मिला। वायरल माइक पर ओपन माइक अत्यधिक अनुशंसित है, यह एक ऐसी जगह है जहाँ लोग न केवल अपनी कला में अपना हाथ आजमाते हैं बल्कि शो की मदद से एक दूसरे से सीखते भी हैं।अगर आप भीवायरल माइक के इवेंट में पार्टिसिपेट करना चाहते हैं तो आने वाले इवेंट काहिस्सा बनने के लिए क्लिक करेंवायरल माइक केफेसबुकऔरइन्स्टाग्रामपर जा कर आप इससे जुड़े सभी टैलेंट को देख सकते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today New and young artists are going viral through viral mic New and young artists are going viral through viral mic New and young artists are going viral through viral mic […]

  • उभरते कलाकारों को पहचान दिलाता वायरल माइक का ओपन स्टेज
    by Dainik Bhaskar,,327 on September 14, 2019 at 7:53 am

    एक कलाकार के रूप में हमेशा केवल प्रदर्शन से अधिक तनाव लेना पड़ता है। एक कलाकार को हमेशा ये टेंशनहोती हैकि क्या स्टेज सही होगा, क्या मेरे प्रदर्शन स्लॉट की पुष्टि हो गई है, क्या इवेंट होने वाला है, क्या हम अपने वीडियो रिकॉर्ड कर सकते हैं और खुद को भेज सकते हैं। यह वह जगह है जहां वायरल माइक उभर कर आता है, जहां इवेंट का काम बेहद जबर्दस्त अंदाज़ में होता है। ये ही नहीं बल्कि किसी भीइवेंट के बारे में कोई भी अपडेट सभी पंजीकृत प्रतिभागियों और दर्शकों के सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से दी जाती है।वायरल माइक द्वारा किसी भी कलाकार के प्रदर्शन को रिकॉर्ड करने के लिए बहुत मामूली और सस्ती फीसली जाती है । इनके द्वारा सभी इवेंट का आयोजन दिल्ली एनसीआर के सबसे ज्यादा खूबसूरत स्थानों पर किया जाता है , जैसे कि सबसे अच्छे कैफे, सामुदायिक हॉल और सह-कार्य स्थान, सेक्टर 29 के साइबर पार्क गुड़गाँव साइबर साइबरिटी गुड़गाँव, हौज खास गांव, मयूर विहार नोएडा। इनका एक एजेंडा है जिसका कड़ाई से पालन किया जाता है, जो ओपन माइक की संरचना और गुणवत्ता की ओर जाता है।हर बार की तरह उसी स्टैंडर्ड के साथवायरल माइक फिर से इस रविवार यानी 15 सितंबर को कार्यक्रम का आयोजन करने जा रहा है। इसके अलावा वे कुछ चुनिंदा कलाकारोंशामिल करनाशुरू करेंगे जो पिछले एपिसोड में ओपन माइक की गुणवत्ता को और अधिक बढ़ाने के लिएउभरते सितारे के रूप में सामने आए थे। यह कार्यक्रम युवा नवोदित कलाकारों को इन उभरते सितारों का अवलोकन करने और उनके कौशल को और भी अधिक चमकाने का अवसर प्रदान करेगा।“यह अब तक के सबसे मेजबान और सबसे पेशेवर ओपन माइक आयोजन टीम के साथ सभी के लिए एक मंच है। इसके अलावा TWM गुणवत्ता के साथ समझौता किए बिना शहर के दिल में सबसे अधिक होने वाले स्थानों को चुनती है। आप एक किफायती राशि के लिए अपना प्रदर्शन दर्ज करवा सकते हैं 'हरनीत कौर छाबड़ा, पुणे ओपन माइक“यह सबसे अच्छा मंच है जो व्यक्तिगत रूप से अपनी प्रतिभा दिखाने में मदद करता है। प्रबंधन सराहनीय है। मतदान प्रणाली बहुत अच्छी थी और मुझे इसके माहौल की सराहना करनी चाहिए। हालांकि यह थोड़ा ठंडा हो गया, लेकिन यह किसी को भी परेशान नहीं करता है कि पर्यावरण पहले से ही महान कलाकारों के साथ गर्म था ”~ तनिष्क सक्सेना दिल्ली हौज खास गांवओपन माइकवायरल माइक के फेसबुक और इन्स्टाग्राम पर जा कर आप इससे जुड़े सभी टैलेंट को देख सकते हैं।अगर आप भीवायरल माइक के इवेंट में पार्टिसिपेट करना चाहते हैं तो क्लिक करें Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Viral Mike's Open Stage Recognizing Emerging Artists […]

  • फ़िल्म माचिस के सुपरहिट गाने 'पानी पानी रे' को मोनाली ठाकुर ने किया अपनी आवाज़ में लॉन्च
    by Dainik Bhaskar,,327 on August 27, 2019 at 4:48 am

    सुर सम्राट लता मंगेशकर द्वारा गाया हुआ माचिस फ़िल्म का हिट गाना 'पानी पानी रे' उनके अलावा अब तक किसी ने नहीं गाया था। गुलज़ार साहब द्वारा लिखे हुए इस गाने को विशाल भारद्वाज ने कम्पोज किया था। उस दौर के इस बेहतरीन गाने को मोनाली ठाकुर ने अपने नए अंदाज़ में प्रस्तुत किया है।सिंगर मोनाली ठाकुर ने इस शानदार कवर संस्करण के बारे में बताते हुए कहा- कभी-कभी, आप चीजों की योजना नहीं बनाते हैं और यह अचानक आपके पास आती है जिसे आप ड्राइव में करते हैं। मैं कहीं alps में बैठी थी, मैं वास्तव में लंबी पैदल यात्रा कर रही थी, और इस गीत को गुनगुना रही थी और अचानक मुझे लगा कि यह इतना सुंदर गीत है, काश मैं इस गीत का मैं कोई भी वर्जन दे पाती। जिसके बाद मैंने तुरंत पता लगाया कि इस गाने के राइट्स किसके पास हैं। जब मुझे पता चला कि इसके राइट्स सोनी म्यूज़िक इंडिया के पास हैं तो मैंने उनसे तुरंत पूछा कि मेरी आवाज़ में इस गाने का नया वर्जन लेना चाहते हैं जो कि पूरी तरह से नए साउंडट्रैक के साथ ताकि सभी लोगों के साथ नई पीढ़ी इस गाने को एक नई आवाज़ और नए साउंड के साथ सुन सके। जिसके बाद सोनी म्यूज़िक इंडिया के राइट्स की पुष्टि करने के अगले दिन से ही मैंने इस गाने पर अपना काम शुरू कर दिया।इस सांग के निर्माण के बारे में अपने अनुभव को साझा करते हुए, ठाकुर कहती हैं, - यह मेरे लिए काफी रोमांचक अनुभव रहा है क्योंकि यह मेरा पहला मिनी प्रोडक्शन है! हमने स्विटज़रलैंड में संगीत वीडियो शूट किया, जो Alps के दिल में खूबसूरत स्थानों को कैप्चर करता है। इसलिए, मूल रूप से, हमारे पास एक सुंदर छुट्टी थी और वीडियो की शूटिंग के 2 दिन भी थे। इस गाने की मेलडी और गुलज़ार साहब के सुंदर शब्द के लिए प्राकृतिक स्थान से बेहतर और कोई जगह नहीं हो सकती थीं। साथ ही इस वीडियो का सिम्पल और सुंदर होना भी जरूरी था।जब मोनाली से ये पूछा गया कि क्या वो ये गाना और वीडियो इस गाने के ओरिजनल निर्माताओं से भी शेयर करेंगी तो उन्होंने कहा कि- लता मंगेशकर, गुलज़ार साहब और विशाल भारद्वाज हमारे देश के लिविंग लेजेंड्स हैं और मैं इन सबकी बहुत बड़ी प्रसंशक भी हूँ। मुझे नहीं लगता कि मुझमें इतनी हिम्मत है कि मैं उन्हें ये गाना दिखा या सुना पाऊंगी और अगर वो लोग इसे सुनते या दिखते हैं तो ये मेरे लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं होगा।इसके साथ ही मोनाली ने ये भी खुलासा किया कि इनकी पूरी टीम ने गाने की मूल रचना के साथ कोई छेड़ छाड़ नही की है। उनकी टीम ने केवल इस गाने की नयी साउंड और प्रोडक्शन पर ही काम किया है जहाँ मोनाली ने इस गाने का एक सरल और भावपूर्ण प्रस्तुतीकरण दिया है।आपको बता दें कि मोनाली ने हाल ही में फिल्म पल पल दिल के पास (2019) में 'हो जा आवारा ’गीत गाया है।जिसमें सनी देओल के बेटे करण देओल और साहीर बम्बा हैं।सुनिए मोनाली की सुरीली आवाज़ में सॉन्ग 'पानी पानी रे' का ये नया वर्जन- Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Monali Thakur launched the super hit song 'Pani Pani Ray' from the film Maachis in his voic […]

  • सिंगर विलेन का प्रेरक ट्रैक 'एक रात ' यूट्यूब पर हुआ लोकप्रिय
    by Dainik Bhaskar,,327 on August 24, 2019 at 5:26 am

    जब शब्द फेल हो जाते हैं, तब संगीत बोल उठता है। प्रतिभाशाली गायक, विलेन के मामले में ठीक यही महसूस हुआ, जब वह आज चंडीगढ़ प्रेस क्लब में अपने ट्रैक 'एक रात ' के प्रमोशन के लिए यहां पहुंचे। यह एक दार्शनिक रचना है जो एक घटनाचक्र के बीच अवसाद अथवा डिप्रेशन की यात्रा को अभिव्यक्त करती है।एक कलाकार के रूप में विलेन ने कभी नहीं सोचा था कि उनके गीत को दर्शकों का इतना प्यार और सराहना मिलेगी। यह टिक-टॉक पर भी भारी लोकप्रियता बटोर रहा है। साथ ही बिना किसी प्रचार के यू-ट्यूब पर इस गाने को अभी तक 129 मिलियन बार देखा जा चुका है, जबकि विलेन ने यह गाना अपने यू-ट्यूब चैनल - डाक्र्स म्यूजिक कंपनी पर ही अपलोड किया था। गाने के बोल और वीडियो निर्देशन विलेन का ही है। विलेन का असली नाम विपुल धनकर है।विलेन ने कहा, 'यह गाना युवाओं के लिए है और प्रेरक प्रकृति का है। यह उन युवाओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है, जो लो महसूस कर रहे हैं या डिप्रेशन से गुजर रहे हैं। इसमें बताया गया है कि जीवन को एक ही रात में बदला जा सकता है, बशर्ते सकारात्मक रूप से प्रयास किया जाये। 'नि:संदेह, संगीत एक तरह का जादू ही होता है, जिसे विलेन ने अपने गीत 'एक रात ' के माध्यम से साबित भी किया है। वह अब तक कुल पांच गाने सामने ला चुके हैं, जिनमें उनका पसंदीदा गीत है - 'रावण '। उनका कहना है, 'कई बार राम बन कर भलाई नहीं हो पाती है, तब रावण बनकर बदलाव लाना संभव हो जाता है। मैं अपने अगले गीत 'चिडिय़ा ' के लिए भी श्रोताओं व दर्शकों से इसी तरह के प्यार और समर्थन की उम्मीद करता हूं।'प्रेस वार्ता में उनके कजिन, अमन दहिया (आर्टिस्ट मैनेजर) और श्री कशिश माया (रैप आर्टिस्ट) भी मौजूद थे। ये सभी कलाकार पशु प्रेमी हैं और उन्होंने एक आवारा कुत्ते को गोद लिया हुआ है, जिसका नाम है - व्यक्ति (यानी एक इंसान), जो नई दिल्ली स्थित इनके म्यूजिक स्टूडियो में ही रहता-घूमता है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Singer Villain's inspiring track 'Ek Raat' became popular on YouTube Singer Villain's inspiring track 'Ek Raat' became popular on YouTub […]

  • बचपन प्ले स्कूल के सीओओ तिजय गुप्ता से जानिए सफलता के गुर
    by Dainik Bhaskar,,327 on August 24, 2019 at 5:17 am

    दैनिक भास्कर ने ‘संकल्प से सफलता’ नाम से नई सीरीज शुरू की है। इसमें इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्तियां और युवा उद्यमी शिखर तक पहुंचने की कहानी बताएंगे और साथ में देंगे सफलता के नुस्खे। इस अंक में हमने बात की है बचपन प्ले स्कूल के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर तिजय गुप्ता से। बचपन कैसे खुद को बड़ा कर रहा है और अगले दो साल में बचपन का टर्नओवर क्या होगा?तिजय गुप्ता- बचपन प्ले स्कूल साल 2004 से प्ले स्कूल एजुकेशन के क्षेत्र में सारे टेक्नोलॉजी को साथ लिए निरंतर आगे बढ़ रहा है। साल 2005-06 में बचपन ने देश भर में 100 ब्रांच शुरू की जिसके बाद बढ़ते-बढ़ते 15 साल में यह नंबर 1200 तक पहुंच चुका है। बचपन के बाद फॉर्मल स्कूल की तरफ बढ़ते हुए 2009 में अकादमिक हाइट्स् पब्लिक स्कूल की स्थापना की गई। आज देशभर में एएचपीएस के 110 से ज्यादा स्कूल हैं। बचपन के लिए एजुकेशन एक सफर है जो पूर्ण होना जरूरी है। इसी सोच के साथ बचपन वर्ष 2020 में Rishihood University की स्थापना भी करने जा रहा है। बिजनेस को शुरू करना आसान है लेकिन उसको बनाए रखना और बढ़ाना उतना ही चुनौतीपूर्ण। बचपन आज 60 करोड़ के टर्नओवर पर पहुंच गया है। 2020 तक कंपनी का लक्ष्य 1500 स्कूल का है तथा टर्नओवर की बात करें तो 100 करोड़ का आंकड़ा छुआ जा सकता है।बचपन की शुरुआत कहां से हुई, स्कूल के कारोबार को ही क्यों चुना?तिजय गुप्ता- बचपन के सफर की खुशनुमा शुरुआत साल 2004 में हुई। श्री अजय गुप्ता जो की बचपन के सी.ई.ओ के पद पर कार्यरत हैं, एक मिडिल क्लास बिजनेस फैमिली से हैं और हमेशा से ही एजुकेशन के फील्ड में कुछ कर जाने का उनका सपना रहा है। जब वह कक्षा 9 में थे तो उन्होंने जाना की एजुकेशन सिस्टम में कुछ चीजें हैं जहां प्रगति और उन्नति की सख्त जरूरत है। बस एक यही सोच के लिए वह प्ले स्कूल सेगमेंट में इनोवेशन करने के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़े।आपके स्कूल में क्या खास बातें हैं जो दूसरों से आपको अलग करती है?तिजय गुप्ता- बचपन नर्सरी स्कूलिंग और प्ले वे पूरे भारत में प्रसिद्ध है। बचपन इनोवेटिव सॉल्यूशन में पूरी तरह विश्वास करता है और टेक्निकल पार्टनर के रूप में प्रिसमार्ट बचपन से जुड़ा हुआ है और तकनीकी उपकरणों का अध्ययन और उद्घाटन कर चुका है जैसे प्री-टैब, स्पीक-ओ-पैन, रोबो-टाइम और बहुत कुछ। बचपन टेक्नोलॉजी ड्रिवेन लर्निंग पर फोकस करने वाला पहला स्कूल है और देशभर में आज इसे इंडिया का फेवरेट स्कूल माना जाता है। बचपन फ्रेंचाइजी की एक विख्यात चेन है जो कि फ्लैक्सिबल बिजनस मॉडल के लिए जानी जाती है। बचपन अपने फ्रेंचाइजी पार्टनर को भरपूर सहयोग देता है।बचपन क्या बच्चों के साथ उनके पेरेंट्स को भी शिक्षित कर रहा है, क्या है स्कीम?तिजय गुप्ता- पेरेंटिंग एक ऐसा विषय है जिसके बारे में स्कूल सबसे बेहतर जानता है। बचपन पेरेंट्स को जागरूक बनाने का कोई मौका नहीं छोड़ता। बचपन की ओर से पैरेंट ओरिएंटेशन प्रोग्राम का संचालन करता है। बचपन की वेबसाइट पर पेरेंटिंग पर ब्लॉग्स प्रकाशित करता है जो पेरेंट्स द्वारा पढ़े और पसंद किए जाते हैं। बचपन टीचर्स के लिए भी ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाता है। जिससे टीचर्स को पीटीएम पेरंट्स को काउंसिल करने में सहायता मिलती है।स्कूल के अलावा आप अन्य किस क्षेत्र में सक्रिय हैं?तिजय गुप्ता- प्ले स्कूल के अलावा Rishihood University की स्थापना की तैयार में हैं और इसी साल उद्घाटन की घोषणा की जाएगी। हेल्थ सेक्टर में मस्ट एंड मोरे नाम की पैथोलॉजी और डायग्नोस्टिक लैब है, जो नार्थ दिल्ली का सबसे बड़ा मेडिकल टेस्ट सेंटर है। यह सेंटर आधुनिक उपकरणों से लैस है।अभी कितने शहरों में बचपन की ब्रांच हैं और इस वित्त वर्ष में कितने ब्रांच खोलने की योजना है?तिजय गुप्ता- बचपन की देशभर में 1200 से अधिक ब्रांच हैं। देश के बाहर नेपाल और बांग्लादेश में 400 से अधिक शहरों में ब्रांच होने के कारण बचपन बच्चों और पेरेंट्स् के लिए एक्सेसेबल है। अगले एक साल में यानी 2020 तक बचपन को उम्मीद है कि वह देशभर में 1500 से ज्यादा ब्रांच स्थापित कर लेगा। हम आशा करते हैं कि पूरे देश के बच्चों को लगातार शिक्षित करेंगे तथा उनका भविष्य उज्ज्वल बनाएंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Learn success stories from Tijay Gupta, COO of Bachpan Play School Learn success stories from Tijay Gupta, COO of Bachpan Play Schoo […]